Top

दिल्ली की हवा हुई जहरीली: सांस लेना हुआ मुश्किल, प्रदूषण से हालत गंभीर

राजधानी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। वही बुधवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब से 'गंभीर' की श्रेणी में आ गई।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 25 Nov 2020 5:49 PM GMT

दिल्ली की हवा हुई जहरीली: सांस लेना हुआ मुश्किल, प्रदूषण से हालत गंभीर
X
दिल्‍ली में सांस लेना हुआ और मुश्किल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

राजधानी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। वही बुधवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब से गंभीर की श्रेणी में आ गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक, आईजीआई एयरपोर्ट के पास भी हालात खराब ही दिख रहे हैं और वायु गुणवत्ता सूचकांक 375 दर्ज किया गया।

मोबाइल ऐप ‘समीर’ के अनुसार

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के मोबाइल ऐप ‘समीर’ के अनुसार, शहर का वायु गुणवत्ता सूचकांक 401 रहा। मंगलवार को एक्यूआई 388, सोमवार को 302, रविवार को 274,शनिवार को 251 , शुक्रवार को 296 और बृहस्पतिवार को 283 रहा। उल्लेखनीय है कि शून्य से 50 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘अत्यंत खराब’ और 401 से 500 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है।

ये भी पढ़ें : दिल्ली हिंसा थी आतंकी घटना! पुलिस ने चार्जशीट में कहा, उमर-शर्जील पर ये बड़े आरोप

27 और 28 नवंबर को बहुत ख़राब की स्थिति

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की निगरानी प्रणाली सफ़र के अनुसार मंगलवार को प्रदूषण में पराली की हिस्सेदारी पांच फीसदी रही थी। पंजाब और हरियाणा में पराली रियाणा में पराली जलाने की करीब 189 घटनाएं दर्ज की गई। वही बुधवार को दिल्ली की हवा में पीएम2.5 प्रदूषकों में इसकी हिस्सेदारी दो प्रतिशत रही। गुरुवार को हवा की गति बढ़ी और वायु संचार की स्थिति सुधरने पूर्वानुमान जताया है। सफ़र का कहना है कि एक्यूआई के कल यानी गुरुवार को बहुत खराब’ श्रेणी में आने की संभावना है। साथ ही 27 और 28 नवंबर को बहुत ख़राब की स्थिति हो सकती है।

ये भी पढ़ें…उपराष्ट्रपति बोले- कुछ न्यायिक फैसलों से लगता है जूडिशरी का हस्तक्षेप बढ़ा है

ये भी पढ़ें : आक्रामक हुआ किसान आंदोलन, तोड़ा पुलिस बैरिकेड, भारी पुलिस फोर्स मौजूद

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Monika

Monika

Next Story