×

दिल्ली में बवाल: मंदिर पर प्रदर्शन पड़ गया भारी, पुलिसकर्मी भी घायल

देश की राजधानी दिल्ली के तुगलकाबाद में संत रविदास का एक मंदिर गिराए जाने के खिलाफ दलितों ने जम कर विरोध प्रदर्शन किया। जिस वजह से पुलिस ने भीड़ को हटाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और ''हल्का लाठीचार्ज'' किया। उच्चतम न्यायालय के आदेश पर दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने 10 अगस्त को मंदिर गिरा दिया था।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 22 Aug 2019 5:14 AM GMT

दिल्ली में बवाल: मंदिर पर प्रदर्शन पड़ गया भारी, पुलिसकर्मी भी घायल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली के तुगलकाबाद में संत रविदास का एक मंदिर गिराए जाने के खिलाफ दलितों ने जम कर विरोध प्रदर्शन किया। जिस वजह से पुलिस ने भीड़ को हटाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और ''हल्का लाठीचार्ज'' किया। उच्चतम न्यायालय के आदेश पर दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने 10 अगस्त को मंदिर गिरा दिया था। उस बवाल के बाद भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद समेत 91 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

ये भी देखें:LIVE: पी चिदंबरम की कोर्ट में पेशी आज, फिर दायर कर सकते हैं जमानत याचिका

21 अगस्त को रात प्रदर्शनकारियों ने उस स्थल तक मार्च किया और इस उसमें एक समूह हिंसक हो गया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घटना में कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए। उन्होंने कहा कि भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और हल्का लाठीचार्ज किया।

दलित संगठन भीम आर्मी ने दावा किया कि उनके नेता चंद्रशेखर आज़ाद को हिरासत में ले लिया गया और पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर गोलियां चलाई। इससे पहले दिन में हजारों दलितों ने मध्य दिल्ली के झंडेवालान में अम्बेडकर भवन से रामलीला मैदान तक मार्च किया।

ये भी देखें:भारत अफगानिस्तान में आतंकियों से लड़ने में निभा सकता है अहम रोल :डोनाल्ड ट्रंप

दलित तुगलकाबाद क्षेत्र में रविदास मंदिर को गिराए जाने का विरोध कर रहे थे। प्रदर्शनकारी बसों और ट्रेनों से देश के विभिन्न हिस्सों से आए थे।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story