हाईवे पर खोद दी खाईः किसानों को रोकने का कदम, है कड़ी निगरानी

केंद्र सरकार के किसान कानून के खिलाफ हरियाणा के रास्ते पंजाब से दिल्ली आ रहे किसानों के प्रदर्शन के बीच हरियाणा सरकार ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए कड़े इंतजाम कर दिए हैं।

Published by Ashiki Patel Published: November 26, 2020 | 10:14 pm
Modified: November 26, 2020 | 10:18 pm
Farmers Protest Against Agricultural Laws

हाईवे पर खोद दी खाईः किसानों को रोकने का कदम, है कड़ी निगरानी

नई दिल्ली: केंद्र सरकार के किसान कानून के खिलाफ हरियाणा के रास्ते पंजाब से दिल्ली आ रहे किसानों के प्रदर्शन के बीच हरियाणा सरकार ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए कड़े इंतजाम कर दिए हैं। प्रदर्शनकारी किसानों को दिल्ली में प्रवेश से रोकने के लिए दिल्ली करनाल हाइवे पर गनौर के पास सड़कों को खोद दिया गया है। यहां तक कि हाइवे पर किसान ही नहीं, किसी भी वाहन को आने-जाने की इजाजत नहीं दी गई है। साथं ही हरियाणा राज्य की सारी सीमाओं को सील करते हुए यहां सख्त सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं।

ये भी पढ़ें: भयानक किसान आंदोलन: फेंके जा रहे आँसू गोले और पानी, हिल उठी पूरी सरकार

हाइवे पर ड्रोन से निगरानी

बता दें कि कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान सिंघू बॉर्डर के रास्ते दिल्ली में आने की तैयारी कर रहे हैं। इस रास्ते से हजारों प्रदर्शनकारी किसान दिल्ली की ओर रवाना हुए हैं। किसानों को रोकने लिए यहां भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किये गए हैं। इसके अलावा हाइवे पर हर गतिविधि की निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे लगाए गए हैं।

Agricultural bill

 

फेंके गये आँसू गोले और पानी

किसानों और उनके प्रदर्शन को रोकने के लिए प्रशासन द्वारा जेसीबी से रोड तो खुदवा ही दिया था साथ ही प्रदर्शन के बीच हरियाणा में कई जगह प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए वॉटर कैनन और आंसू गैस के गोलों का इस्तेमाल किया गया है। प्रदर्शन के मुद्दे पर जहां हरियाणा और पंजाब की सरकार आमने-सामने हैं, वहीं दूसरी ओर हरियाणा से लेकर दिल्ली तक किसानों के प्रदर्शन को लेकर अनिश्चितता के हालात बने हैं।

ये भी पढ़ें: LOC पर युद्ध शुरू: सेना और आतंकियों में ताबड़तोड़ फायरिंग, फिर हिला जम्मू-कश्मीर

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App