करतारपुर कॉरिडोर: श्रद्धालुओं की संख्या में आई कमी, क्या पाक है इसकी वजह?

करतारपुर कॉरिडोर के उदघाटन के बाद श्रद्धालुओं में उत्साह की कमी आने लगी है। पहले तीन दिन में गुरुद्वारा दरबार साहिब में केवल हजारों लोग ही दर्शन करने गए हैं। लेकिन अब हर दिन आने वाले लोगों की संख्या में कमी देखी जा रही है। इसके लिए कई वजहे हैं।

Published by suman Published: November 13, 2019 | 11:19 am
Modified: November 13, 2019 | 11:54 am
बहुत कम श्रद्धालु दर्शन के लिए जा रहे करतारपुर, ये है बड़ी वजह

बहुत कम श्रद्धालु दर्शन के लिए जा रहे करतारपुर, ये है बड़ी वजह

जयपुर: करतारपुर कॉरिडोर के उदघाटन के बाद श्रद्धालुओं में उत्साह की कमी आने लगी है। पहले तीन दिन में गुरुद्वारा दरबार साहिब में केवल हजारों लोग ही दर्शन करने गए हैं। लेकिन अब हर दिन आने वाले लोगों की संख्या में कमी देखी जा रही है। इसके लिए कई वजहे हैं।

यह पढ़ें…… फिर जहरीली हुई दिल्ली-NCR की हवा, 437 पर पहुंचा AQI

*दर्शन करने आए लोगों का कहना है कि ऑनलाइन पंजीयन की प्रक्रिया के बारे में जानकारी का अभाव, पासपोर्ट की जरूरत और पाकिस्तान की ओर से करीब 1600 रुपये (20 डॉलर) का सेवा शुल्क लेना इसके लिए जिम्मेदार है।

*पाकिस्तान जाने के बाद, अमेरिका और अन्य देशों का वीजा नहीं मिलने का डर भी, खासकर युवा वहां नहीं जा रहे हैं।

*पीएम नरेंद्र मोदी ने 9 नवंबर को कॉरिडोर का भव्य उद्घाटन किया था।इसके बाद 897 श्रद्धालु करतारपुर गलियारे के माध्यम से करतारपुर साहिब गए हैं।

यह पढ़ें……महाराष्ट्र: समय से पहले क्यों लगा राष्ट्रपति शासन? गृह मंत्रालय ने दिया ये जवाब

*इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट के अधिकारी ने  बताया कि 10, 11 और 12 नवंबर को क्रमश: 229, 122 और 546 श्रद्धालु करतारपुर गए हैं। ये उन संख्याओं से काफी कम हैं, जिन पर भारत और पाकिस्तान सहमत थे।

*दोनों देशों के बीच समझौता हुआ था कि रोज 5 हजार लोग गुरुद्वारे में दर्शन के लिए सीमा पार कर सकते हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App