×

अभेद्य किले में तब्दील हुआ गुजरात, ट्रंप की होगी ऐसी सुरक्षा कि परिंदा भी नहीं मार पाएगा पर

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं। डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी तक भारत दौरे पर रहेंगे। वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर ट्रंप का यह पहला दौर होगा।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 16 Feb 2020 7:46 AM GMT

अभेद्य किले में तब्दील हुआ गुजरात, ट्रंप की होगी ऐसी सुरक्षा कि परिंदा भी नहीं मार पाएगा पर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं। डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी तक भारत दौरे पर रहेंगे। वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर ट्रंप का यह पहला दौर होगा। व्हाइट हाउस के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से इसकी जानकारी शेयर की थी। ट्रंप 24 फरवरी को सबसे पहले गुजरात के अहमदाबाद जाएंगे। अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में ट्रंप का भव्य कार्यक्रम प्रस्तावित है। डोनाल्ड ट्रंप के दौरे की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की तैयारी लगभग पूरी हो गई है।

ये भी पढ़ें:खौफनाक आतंकी हमला: 30 लोगों को उतारा मौत के घाट, सेना ने संभाला मोर्चा

भारत आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, इस खास कार्यक्रम में लेंगे हिस्सा

मिली जानकारी के मुताबिक, वहां की मीडिया ने अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम का जायजा लिया। साथ ही गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के वर्किंग प्रेसिडेंट धनराज नथवाणी और BCCI के सेक्रेटरी जय शाह भी शनिवार को मोटेरा स्टेडियम पहुंचे। उनके साथ गुजरात पुलिस के शीर्ष अधिकारी भी मौजूद थे।

अहमदाबाद के डीसीपी विजय पटेल ने बताया है कि सुरक्षा के लिए यहां 10 हजार पुलिसकर्मी लगाए जाएंगे। सुरक्षा में 25 IPS अधिकारी, 65 ASP, 22 पुलिस इंस्पेक्टर और 800 सब-इंस्पेक्टर समेत 10000 से अधिक पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा।

हवाई सुरक्षा में विमानों का काफिला भी रहेगा

हवाई सुरक्षा में विमानों का काफिला भी रहेगा। काफिले में अमेरिकी राष्ट्रपति के आधिकारिक जेट एयरफोर्स वन के अलावा 6 और विमान होंगे। ऐसा बताया जा रहा है कि इसमें अलग-अलग हेलीकॉप्टर, कार और कार्गो भी होंगे।

जब किसी भी देश में ट्रंप का काफिला चलता है तो वहां की स्थानीय सुरक्षाकर्मियों के साथ उनके अपने सुरक्षाकर्मी होते हैं, जो सैकड़ों की संख्या में होते हैं। अंदरूनी सुरक्षा घेरा पूरी तरह अमेरिकी प्रेसीडेंट की सुरक्षा टीम संभालती है।

अंदरूनी सुरक्षा में आमतौर पर 14 गाड़ियां होती हैं। सबसे आगे और अगल-बगल 9 मोटर बाइक सवार चल रहे होते हैं, जो आधुनिक उपकरणों से लैस होते हैं। किसी भी तरह के संकट से निपटने में सक्षम होते हैं। आगे का रास्ता क्लियर करने का काम उन्हीं का होता है।

हाउडी मोदी की तरह होगा ‘केम छो ट्रंप’

डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया के लिए सरकार अहमदाबाद में उसी तरह 'केम छो, ट्रंप' कार्यक्रम का आयोजन करने जा रही है जिस प्रकार टेक्सास में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

ये भी पढ़ें:Live: केजरीवाल ने ली दिल्ली के सीएम पद की शपथ, हुई ताजपोशी

अहमदाबाद हवाई अड्डे से रोड शो करेंगे

डोनाल्ड ट्रंप और पीएम मोदी अहमदाबाद हवाई अड्डे से रोड शो करेंगे और साबरमती आश्रम पहुंचकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। उसके बाद में ट्रंप अहमदाबाद में नवनिर्मित सरदार पटेल स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे। इस स्टेडियम में 1,00,000 से अधिक लोगों की आने का अंदाजा लगाया जा रहा है।

डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी भारत यात्रा को लेकर ट्वीट भी किया है। उन्होंने लिखा कि मार्क जुकरबर्ग ने शायद बताया है कि डोनाल्ड ट्रंप फेसबुक में पहले नंबर पर हैं और दूसरे नंबर पर भारत के प्रधानमंत्री मोदी हैं।

ऐसा बताया जा रहा है कि तीन घंटे की इस यात्रा के लिए गुजरात सरकार 100 करोड़ रुपये खर्च करेगी। गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने भी कहा है कि ट्रंप की मेजबानी में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

कैसा होगा अहमदाबाद का नजारा:

ट्रंप के दौरे के टाइम अहमदाबाद का नजारा देखने लायक होगा। ट्रंप और मोदी 7 स्तरीय सुरक्षा घेरे में रहेंगे, जब तक वे अहमदाबाद रहेंगे, वहां नो फ्लाइंग जोन रहेगा, हेलिकॉप्टर से पेट्रोलिंग भी की जाएगी।

हर व्यक्ति की होगी जांच:

नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने वाले हर इंसान की सुरक्षा की जांच होगी। लोग पुलिस वाहन के अतिरिक्त अन्य किसी वाहन में मोटेरा नहीं जा सकेंगे, इसके लिए 2200 बस की अलग व्यवस्था की गई है।

डांडिया भी खेल सकते हैं!

ऐसा बताया जा रहा है कि अहमदाबाद में अमेरिकी राष्ट्रपति डांडिया भी खेल सकते हैं। वैसे तो, आधिकारिक तौर पर इस बारे में कुछ नहीं बताया गया है। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग 2014 में अहमदाबाद आए थे और रिवरफ्रंट पर मोदी-जिनपिंग की झूले पर झूलने की तस्वीरें आई थीं।

ये भी पढ़ें:पाकिस्तान ने फिर खेला नापाक खेल, मसूद अजहर को परिवार सहित बताया लापता

अहमदाबाद क्यों चुना गया:

गुजरात पीएम मोदी का गृहनगर है। गुजराती समुदाय अमेरिका में भी बड़ी संख्या में हैं। ऐसा माना जा रहा है कि राष्ट्रपति ट्रंप की यात्रा के लिए अहमदाबाद का सुझाव स्वंय पीएम मोदी ने ही दिया था।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story