EC का सुप्रीम कोर्ट को सुझाव, कहा- अपराधियों को न मिले टिकट

भारतीय राजनीति में अपराधियों का साया न पड़ने देने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में एक सुझाव पेश किया है। भारत निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि कई तरह के प्रयासों के बावजूद इस पर रोक नहीं लग पाई है।

नई दिल्ली: भारतीय राजनीति में अपराधियों का साया न पड़ने देने के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में एक सुझाव पेश किया है। भारत निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में कहा कि कई तरह के प्रयासों के बावजूद इस पर रोक नहीं लग पाई है। आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि अदालत अपराधियों को टिकट मिलने पर रोक लगाए।

Criminal background वाले उम्मीदवारों को टिकट न दें दल

भारत निर्वाचन आयोग ने अदालत से ये भी कहा कि राजनीतिक दलों से यह कहा जाना चाहिए कि वे ऐसे उम्मीदवारों को टिकट न दें, जिनकी आपराधिक पृष्ठभूमि (Criminal background) हो।

यह भी पढ़ें: अंबानी का ये स्कूल: जहां पढ़ते हैं सेलेब्रिटीज के बच्चे, जानें कितनी है फीस

सुप्रीम कोर्ट ने आयोग को दिए ये निर्देश

वहीं सुप्रीम कोर्ट की तरफ से भारत निर्वाचन आयोग को एक हफ्ते के अंदर उपाय बताने के निर्देश दिए गए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को निर्देश दिए हैं कि वह एक हफ्ते के अंदर देश में राजनीति के अपराधीकरण को रोकने के मद्देनजर रूपरेखा बनाकर कोर्ट में पेश करे।

यह भी पढ़ें: PM मोदी ने ‘वीर बच्चों’ से स्मृति ईरानी को लेकर किया ये सवाल, लगने लगे ठहाके

इसलिए भी नहीं लग रहा राजनीति के अपराधीकरण पर लगाम

भारत निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट को ये भी बताया कि नेताओं द्वारा अपने अपराधों के बारे में घोषणा करने से भी भारतीय राजनीति के अपराधीकरण पर लगाम नहीं लग पा रहा है।

यह भी पढ़ें: अंबानी का ये स्कूल: जहां पढ़ते हैं सेलेब्रिटीज के बच्चे, जानें कितनी है फीस