मुर्दा हुआ जिंदा: मुंह से आवाजे निकालकर खिंचवाई फोटो, सभी हैरान-परेशान

केरल के एर्नाकुलम में हुई वारदात ने सभी को चौका के रख दिया है। एर्नाकुलम में एक फोटोग्राफर हॉस्पिटल के बाहर पुलिस की कागजी कार्रवाई के लिए एक मृत व्यक्ति की फोटोज ले रहा था।

मुर्दा हुआ जिंदा: मुंह से आवाजे निकालकर खिंचवाई फोटो, सभी हैरान-परेशान

केरल। केरल के एर्नाकुलम में हुई वारदात ने सभी को चौका के रख दिया है। एर्नाकुलम में एक फोटोग्राफर हॉस्पिटल के बाहर पुलिस की कागजी कार्रवाई के लिए एक मृत व्यक्ति की फोटोज ले रहा था। लेकिन तभी एकदम से कुछ आवाजे आने लगी। फोटोग्राफर को कुछ शक हुआ। इसके बाद जब वह मृत व्यक्ति के थोड़ा पास गया तो उसके मुंह से धीमे-धीमे आवाज आ रही थी। तुरंत ही फोटोग्राफर ने पुलिस को बताया।

ये भी पढ़ें…विश्व युवा कौशल दिवस पर बोले PM मोदी, हुनर ही इंसान को जीने की ताकत देता है

कुछ बहुत धीमी आवाजें आ रही

फोटो लेते समय जब फोटोग्राफर को कुछ आवाजें आई, तो वह मृत व्यक्ति के नजदीक गया। जहां उसे कुछ बहुत धीमी आवाजें आ रही थी। पुलिस को तुंरत उसने बताया। जिसके बाद जिस व्यक्ति को मरा हुआ समझ लिया गया था, वह असल में जिंदा निकला और अब उस व्यक्ति का आईसीयू में इलाज चल रहा है।

दरअसल फोटोग्राफर टोमी थॉमस को केेरल के एर्नाकुलम जिले के कालामस्सेरी इलाके की एदाथाला पुलिस ने एक मर गए व्यक्ति की तस्वीर लेने के लिए बुलाया गया था। जिसे मरा हुआ समझा जा रहा था उसका नाम सिवादासन है। यहां पुलिस ये मान चुकी थी कि सिवादासन मर गए हैं।

फोटोग्राफर टोमी ने जब पास से सिवादासन की फोटो लेने गए। तो जिसे मरा हुआ समझा जा रहा वह सिवादासन कुछ बोलने लगा। इसके बाद टोमी थॉमस ने वहां मौजूद पुलिस को सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने सिवादासन को त्रिशूर के जुबली मिशन अस्पताल में भर्ती कराया।

ये भी पढ़ें…सचिन पायलट का विद्रोह तो वास्तव में राहुल के ख़िलाफ़ है !

सिवादासन की आवाज सुनकर

हालांकि अब सिवादासन का इलाज आईसीयू में चल रहा है। अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा कि अगर टोमी ने सही समय पर सिवादासन की आवाज सुनकर यहां नहीं पहुंचाया होता तो यह मर गया होता।

मरा समझे जाने वाले सिवादासन पलक्कड़ में कालामस्सेरी के पास एक किराए के घर में अकेले रहते हैं। रविवार को कोई सिवादासन से मिलने उनके घर गया। उसे लगा कि सिवादासन मर गए हैं। उसने पुलिस को सूचना दे दी। इसके बाद ये सारी घटना घटी।

इसके बाद अस्पताल में पता चला कि सिवादासन हाई ब्लडप्रेशर के अटैक के चलते गिर पड़े थे। जिससे बिस्तर के कोने पर गिरने की वजह से उनके सिर में गहरी चोट आ गई है। फिलहाल अभी वो ठीक है और उनका इलाज चल रहा है। समय रहते सिवादासन की जान बच गई।

ये भी पढ़ें…भारी बारिश का कहर, इमारत गिरने से 3 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App