×

हैंड बैग के साथ करते हैं हवाई सफर तो पढ़ें ये जरूरी खबर

दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल टू पर एक्सप्रेस सिक्योरिटी चेक-इन सुविधा शुक्रवार से शुरू हो गई है। अभी तक एयरपोर्ट के सभी यात्रियों को एक ही तरह की सुरक्षा जांच से गुजरना होता था।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 17 Aug 2019 10:32 AM GMT

हैंड बैग के साथ करते हैं हवाई सफर तो पढ़ें ये जरूरी खबर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: अगर आप हैंडबैग के साथ हवाईसफर करते है तो ये खबर आपसे जुड़ी है।

दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल टू पर एक्सप्रेस सिक्योरिटी चेक-इन सुविधा शुक्रवार से शुरू हो गई है।

अभी तक एयरपोर्ट के सभी यात्रियों को एक ही तरह की सुरक्षा जांच से गुजरना होता था।

बीच-बीच में भारी लगेज के साथ हवाई करने वाले यात्रियों को सुरक्षा जांच में ज्यादा वक्त लगता था।

इससे उन यात्रियों को काफी इंतजार करना पड़ता था जो सिर्फ हैंड बैग के साथ यात्रा कर रहे होते थे।

नई सुविधा शुरू होने से टर्मिनल टू पर सुरक्षा जांच में ज्यादा वक्त नहीं लगेगा।

अब हैंड बैग के साथ जाने वाले घरेलू यात्री अपना बोर्डिंग पास लेकर सीधे एक्सप्रेस सिक्योरिटी चेक लेन में प्रवेश कर सकेंगे।

यहां पांच से दस मिनट में उन्हें प्रवेश मिल जाएगा।

सीईओ डायल विदेश कुमार जयपुरियार के मुताबिक, धीरे-धीरे टर्मिनल वन और थ्री पर भी इस सुविधा का विस्तार होगा।

नई सेवा शुरू करने में सीआईएसएफ अहम रोल अदा कर रही है।

इससे पहले यह सेवा हैदराबाद एयरपोर्ट पर अगस्त 2017 में शुरू की गई थी।

जानकारी के मुताबिक़ कि टर्मिनल टू से रोजाना करीब 45000 यात्री सफर करते हैं।

इनमें से 30 फीसदी से ज्यादा यात्रियों के पास कोई बैग नहीं होता। नई सुविधा का सीधा फायदा इन यात्रियों को होगा।

ये भी पढ़ें...रवि शास्त्री(Ravi Shastri) कैसे बने टीम इंडिया(Team India) के कोच(Coach)?

ऐपल मैकबुक प्रो पर बैन, साथ लेकर नहीं कर सकेंगे हवाई सफर

इस साल जून में ऐपल ने 2015 से 2017 के बीच में सेल किए गए मैकबुक प्रो लैपटॉप की यूनिट्स को रिकॉल किया गया था।

कंपनी ने 15 इंच के लैपटॉप को बैटरी से जुड़ी समस्याओं के चलते वापस बुलाए थे।

कंपनी ने कहा कि इन लैपटॉप की बैटरी ओवरहीट कर सकती है और जिससे आग लगने का खतरा भी है।

अब यूएस फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन ने 2015 से 2017 के बीच बने 15 इंच के मैकबुक प्रो को फ्लाइट्स में ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

ये भी पढ़ें...हर-हर मोदी से गूंज उठा भूटान, कुछ इस तरह हुआ पीएम का स्वागत

15 इंच के मैकबुक प्रो को लेकर हवाई यात्रा नहीं

फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन के फैसले के बाद अब यात्री 15 इंच के मैकबुक प्रो को लेकर हवाई यात्रा नहीं कर सकेंगे।

इन लैपटॉप्स को कार्गो और कैरी ऑन लगेज दोनों ही रूप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा।

टीयूआई ग्रुप एयरलाइन्स, थॉमस कुक एयरलाइन, एयर इटली और एयर ट्रांसैट ने यह बैन लगाया है।

इन लैपटॉप पर असर नहीं

फ्लाइट टेकऑफ होने से पहले गेट पर अनाउंसमेंट किया जाएगा।

टीयूआई ग्रुप के प्रवक्ता ने कहा कि 2015 से 2017 के बीच बेचे गए जिन लैपटॉप की बैटरी रिप्लेस की गई है उन पर यह बैन लागू नहीं होगा।

ये भी पढ़ें...विद्या ने प्रेग्नेंसी को लेकर खोला ये बड़ा राज, खुला रह गया सबका मुंह

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story