सेना का फर्जी मेजर बन 17 लड़कियों को फंसाया, शादी के नाम पर ठगे छह करोड़ रुपये

आरोपी महज 9वीं तक पढ़ा है, लेकिन वह खुद को एनवायरनमेंट इंजीनियरिंग में एमटेक बताता था। वह शादीशुदा है और एक बेटे का बाप भी है, लेकिन खुद को कुंवारा बताकर लड़कियों को झांसे में लेता था।

Published by Aditya Mishra Published: November 23, 2020 | 12:05 pm
Fraud

सेना का फर्जी मेजर बन 17 लड़कियों को फंसाया, शादी के नाम पर ठगे छह करोड़ रुपये (फोटो:सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: तेलंगाना पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है, जो खुद को सेना का मेजर बताता था और लड़कियों को शादी के झांसे में फंसा लेता था।

बताया जा रहा है कि आरोपी अब तक करीब 17 लड़कियों को अपने जाल में फंसा चुका है और उनसे छह करोड़ रुपये से ज्यादा ठग चुका है।

इस मामले का खुलासा होने के बाद से जो कोई भी पकड़े गये आरोपी की करतूत के बारें में सुन रहा हैं, वो हैरान रह जा रहा है। आरोपी ने केवल 9वीं तक की पढ़ाई की है।

उसने लड़कियों को झांसे में फंसाने के लिए पूरा प्लान बना रखा था। जिसके तहत ही वह ठगी का काम करता था। रौब जमाने के लिए वह लग्जरी गाड़ियों का इस्तेमाल करता था।उसके पास से दोमंजिला मकान और तीन कारें मिली हैं। बरामद कारों में एक मर्सिडीज बेंज भी है।

उसके कब्जे से सैन्य अधिकारी की तीन वर्दी, बैज, फर्जी पहचान पत्र, कुछ फर्जी प्रमाण पत्र, एक नकली पिस्टल और तीन कारतूस भी बरामद हुए हैं। मुदवथ के खिलाफ वारंगल में भी एक केस दर्ज है। उसने कई हाई प्रोफाइल परिवारों को चूना लगाया है।

wedding
सेना का फर्जी मेजर बन 17 लड़कियों को फंसाया, शादी के नाम पर ठगे छह करोड़ रुपये (फोटो:सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें…बेटी का ऐसा बदला: पिता को देख कांप उठा बलात्कारी, दी ऐसी खौफनाक सजा

ऐसे शुरू किया था फर्जीवाड़े का खेल

प्राप्त जानकारी क अनुसार पकड़े गये आरोपी का नाम मुदवथ है। उसने 2002 में गुंटूर जिले के स्वास्थ विभाग में कार्यरत महिला से सबसे पहले विवाह किया था। उस महिला से उसका एक बेटा भी है।

मुदवथ का परिवार गुंटूर जिले के वीनूकोंडा में रहता है। मुदवथ 2014 में हैदराबाद आकर शिफ्ट हो गया और जवाहर नगर स्थित सैनिकपुरी में रहने लगा।

पुलिस ने बताया कि उसने अपनी पत्नी को सेना कार्यालय में नौकरी मिलने की जानकारी दी। साथ ही, कुछ जरूरी काम बताकर पत्नी से 67 लाख रुपये ले लिए। इसके बाद आरोपी ने एमएस चौहान के नाम से फर्जी आधार कार्ड बनवाया और खुद को सेना का अधिकारी बताने लगा। यही से उसका ठगी का खेल शुरू हुआ।

उसने खुद को सेना का मेजर दिखाने के लिए सेना की वर्दी में कई सारी तस्वीरें बनवाई और फिर उसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपलोड कर दिया। यही नहीं आगे चलकर उसने कुछ मैट्रिमोनियल वेबसाइट पर भी फर्जी प्रोफाइल बनाए और शादी के लिए लड़कियों से बात करना शुरू कर दिया।

ये भी पढ़ें…फिर लॉकडाउन की तैयारी: सरकार करेगी बड़ा ऐलान, जल्द लिया जायेगा फैसला

किराये के कमरे में बैठकर सेना की वर्दी में लड़कियों से वीडियो काल पर करता था बात

बताया जा रहा है कि उसने हैदराबाद में एक कमरा भी किराए पर ले रखा था। इस कमरे को वह सेना का दफ्तर बताता था। इसी कमरे में बैठकर वह सेना की वर्दी में लड़कियों व उनके परिजनों से वीडियो कॉल पर बात करता था।

वह खुद को नेशनल डिफेंस एकेडमी, पुणे से पासआउट बताता था। शुरुआत में वह दहेज न लेने की बात कहता था, लेकिन बाद में जरूरी काम का बहाना बनाकर पैसे की डिमांड करना शुरू कर देता था।

पुलिस को पता चला है कि इस फर्जी मेजर ने तेलंगाना के राज्य सचिवालय में कार्यरत एक अधिकारी से 56 लाख की ठगी की है। इसी तरह से वारंगल निवासी एक परिवार को दो करोड़ रूपये का चूना लगाया है।

ये भी पढ़ें…LOC पर खतरनाक चीज: आसमान पर खूनी साजिश, सेना हाई अलर्ट पर

money
सेना का फर्जी मेजर बन 17 लड़कियों को फंसाया, शादी के नाम पर ठगे छह करोड़ रुपये (फोटो:सोशल मीडिया)

9वीं पास ठग ने कई हाई प्रोफाइल परिवारों को लगाया करोड़ों का चूना

आरोपी ने खुद को गोरखपुर से आईआईटी पासआउट बताकर भी कई लोगों के साथ ठगी की थी। जब वह एक और परिवार से धोखाधड़ी करके पैसे ऐंठने की कोशिश में था, तभी उसका राज खुल गया और फिर उस परिवार की शिकायत पर पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया।

आरोपी महज 9वीं तक पढ़ा है, लेकिन वह खुद को एनवायरनमेंट इंजीनियरिंग में एमटेक बताता था। वह शादीशुदा है और एक बेटे का बाप भी है, लेकिन खुद को कुंवारा बताकर लड़कियों को झांसे में लेता था। तेलंगाना पुलिस के मुताबिक, आरोपी की पहचान मुदवथ श्रीनु नाइक के रूप में हुई है।

वह आंध्र प्रदेश के प्रकासम जिले के किलाम्पल्ली गांव का रहने वाला है। वह अब तक 17 लड़कियों को फंसा चुका है और उनसे 6.61 करोड़ रूपये की ठगी कर चुका है।

ये भी पढ़ें…अब वैक्सीन भारत में: हुआ सबसे बड़ा क्लिनिकल ट्रायल, बढ़ी उम्मीदें

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App