दिल्ली एम्स में आग का तांडव, इमरजेंसी वार्ड हुआ बंद, दमकल की 40 गाड़ियां मौजूद

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भीषण आग लग गई है। बताया जा रहा है कि यह आग इमरजेंसी वार्ड के पास लगी है। लोगों को अस्पताल से बाहर निकाला जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह आग एम्स की इमारत के फर्स्ट और सेकेंड फ्लोर पर लगी है।

नई दिल्ली: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में लगी आग पर काबू पा लिया गया था, लेकिन एक बार फिर पांचवीं मंजिल पर आग भड़क उठी है। जनरल वार्ड को खाली कराया जा रहा है। एम्स की ओर से मरीजों के लिए हेल्पलाइन नंबर 01126593308 जारी किया गया है।

बताया जा रहा है कि यह आग इमरजेंसी वार्ड के पास लगी है। लोगों को अस्पताल से बाहर निकाला जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह आग एम्स की इमारत के फर्स्ट और सेकेंड फ्लोर पर लगी है। अस्पताल के बाहर भी धुंआ दिखाई दे रहा है।

यह भी पढ़ें…दिल्ली: एम्स में लगी भीषण आग, बीजेपी नेता अरुण जेटली हैं भर्ती

मिली जानकारी के मुताबिक शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगी है। एम्स आग लगने के बाद मौके पर फायर ब्रिगेड की टीम मौजूद है और आग पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है। फायर डिपार्टमेंट की 34 गाड़ियां आग पर काबू पाने में लगी है। एहतियात के तौर पर एम्स का इमरजेंसी विभाग बंद कर दिया गया है। दिल्ली एम्स देश का प्रमुख चिकित्सा संस्थान है।

यह भी पढ़ें…हर-हर मोदी से गूंज उठा भूटान, कुछ इस तरह हुआ पीएम का स्वागत

आग लगने के बाद अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। आग पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है। हर तरफ धुआं फैल गया है। बताया जा रहा है कि आग टीचिंग ब्लॉक में लगी और यह शाम के समय यह खाली रहा होगा। यहां कई लैब्स और प्रोफेसर्स के केबिन हैं।

यह भी पढ़ें…बेहद नाजुक हालत में अरुण जेटली, देखने के लिए लगने लगा तांता

सबसे बड़ी बात यह है कि इन दिनों पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली गंभीर हालत में एम्स में भर्ती हैं। वह आग लगने की जगह से करीब 500 मीटर की दूरी पर दूसरे ब्लॉक में हैं। वहां राष्ट्रपति, पीएम मोदी सहित कई केंद्रीय मंत्रियों और अन्य वीवीआईपी का आना-जाना लगा रहा है।