Top

अस्पताल पर हमला: बदमाशों ने पुलिस पर की फायरिंग, कस्टडी से भगा ले गए आरोपी

राजधानी दिल्ली में बदमाशों की दबंगई बढ़ती जा रही हैं। जिससे अपराधी दिल्ली पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं। इसी के साथ एक बार फिर बदमाशों ने दिल्ली के जीटीएल अस्पताल के ठीक बाहर ताबड़तोड़ फायरिंग की और एक कुख्यात अपराधी को पुलिस के कब्जे से छुड़ाकर फरार हो गए।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 25 March 2021 10:10 AM GMT

अस्पताल पर हमला: बदमाशों ने पुलिस पर की फायरिंग, कस्टडी से भगा ले गए आरोपी
X
अस्पताल में फायरिंग पर, पुलिस की आंखों में मिर्ची डाल, साथी को ले गए बदमाश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में बदमाशों की दबंगई बढ़ती जा रही हैं। जिससे अपराधी दिल्ली पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं। इसी के साथ एक बार फिर बदमाशों ने दिल्ली के जीटीएल अस्पताल के ठीक बाहर ताबड़तोड़ फायरिंग की और एक कुख्यात अपराधी को पुलिस के कब्जे से छुड़ाकर फरार हो गए। इया घटना के बाद से पुलिस डिपार्टमेंट में खलबली मच गई है।

जीटीबी अस्पताल के जा रहे थे

खबरों की माने तो जिस कैदी को पुलिस हिरासत से छुड़ाया गया था वो कोई मामूली बदमाश नहीं था। उसका नाम कुलदीप बताया जा रहा है। जिसे दिल्ली पुलिस की थर्ड बटालियन की टीम जेल से जीटीबी अस्पताल लेकर आई थी। जहां उसका मेडिकल होना था। उसी वक़्त वह एक स्कोर्पियो कार और बाइक पर आधा दर्जन लोग सवार होकर पहुंचे।

पुलिस पर फेंका मिर्ची पाउडर

सभी बदमाश अस्पताल के अंदर दाखिल हुए और करीब 12:30 बजे उन लोगों ने पुलिस बटालियन के इंचार्ज पर मिर्ची पाउडर फेंक दिया। इससे पहले पुलिसकर्मी कुछ समझ पाते, बदमाशों ने कैदी कुलदीप को छुड़ाने के लिए पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। इसका फायदा उठा कर बदमाश कुलदीप के साथ वहां से फरार हो गए ।

ये भी पढ़ें : कोरोना मरीज फिर रहे मारे-मारे, अस्पताल में ऐसी स्थिति, बिगड़ी नागपुर की हालत

एक पुलिसकर्मी की मौत

बदमाशी द्वारा की गई फायरिंग से एक पुलिस की गोली लगी, मौके पर ही उसकी मौत हो गई। बता दें, कुलदीप कुख्यात बदमाश जितेंद्र गोगी गैंग का सदस्य है। उसपर करीब 70 हत्या के केस दर्ज हैं। पुलिस फायरिंग में मारे गए बदमाश की मेह्चान में पुलिस जुटी हुई है।

ये भी पढ़ें : 26 मार्च का भारत बंदः नौ दशक बाद भी जारी है भगत सिंह के संकल्पों की लड़ाई

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Monika

Monika

Next Story