×

बौखलाए पाकिस्तान की गीदड़ भभकी, बासित बोले- भारत के खिलाफ छेड़ दो युद्ध

जम्मू-कश्मीर पर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान पूरी दुनिया में मदद की गुहार लगा रहा है, लेकिन उसे हर जगह से मुंह की खानी पड़ी है। अब पाकिस्तान के सदाबहार दोस्त चीन ने भी उसका साथ इंकार कर दिया है। इसके बाद बौखलाए पाकिस्तान ने युद्ध छेड़ने की गीदड़भभकी दी है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 12 Aug 2019 2:56 PM GMT

बौखलाए पाकिस्तान की गीदड़ भभकी, बासित बोले- भारत के खिलाफ छेड़ दो युद्ध
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर पर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान पूरी दुनिया में मदद की गुहार लगा रहा है, लेकिन उसे हर जगह से मुंह की खानी पड़ी है। अब पाकिस्तान के सदाबहार दोस्त चीन ने भी उसका साथ इंकार कर दिया है। इसके बाद बौखलाए पाकिस्तान ने युद्ध छेड़ने की गीदड़भभकी दी है।

यह भी पढ़ें...इस नेता के बिगड़े बोल, कहा- 100वें स्वतंत्रता दिवस पर भारत के साथ नहीं होगा कश्मीर

पाकिस्तान के नेता लगातार गैर-जिम्मेदाराना बयान दे रहे हैं। इस मुद्दे को गरमा रहे हैं। अब भारत में पाकिस्तान के राजनयिक रहे अब्दुल बासित ने भारत के साथ युद्ध की धमकी दी है। पूर्व राजनयिक ने कहा कि यदि भारत हद पार करे तो युद्ध करना चाहिए।

यह भी पढ़ें...घाटी में अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ गृह मंत्रालय ने की बड़ी कार्रवाई

अब्दुल बासित ने कहा, 'कश्मीर में संघर्ष के चार मोर्चे हैं। पहला, नेशनल कॉन्फ्रेंस द्वारा सुप्रीम कोर्ट में कानूनी लड़ाई। दूसरा, पाकिस्तान को आत्मनिर्णय के साथ कूटनीतिक प्रयास जारी रखने चाहिए। तीसरा, पाकिस्तानी और कश्मीरी प्रवासी इस संबंध में काम करते रहें। चौथा, सबसे महत्वपूर्ण यह है कि कश्मीर में राजनीतिक लड़ाई को पाकिस्तान कमजोर न होने दे। अगर भारत अपनी हदें पार करे तो युद्ध की तरफ बढ़ा जाए।'

यह भी पढ़ें...अभिनेत्री श्वेता तिवारी ने पति पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- बेटी पर…

बासित ने अपने नापाक इरादे जारी रखते हुए कहा कि पाकिस्तान सरकार से जम्मू-कश्मीर के मामलों के लिए विदेश मंत्रालय में अलग सेल बनानी चाहिए। इसके साथ ही कहा कि इस सेल का नेतृत्व विशेष राजनयिक करें। अब्दुल बासित ने कहा, 'सही और प्रभावी कूटनीति के लिए सही संगठनात्मक संरचना बहुत जरूरी है। कश्मीर पर पाकिस्तान को अपनी पुरानी नीति में बदलाव लाना होगा।'

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story