गुजरात में भीषण बारिश का कहर, आगामी 48 घंटे आफत के

बिलखाड़ी और मधुबन डेम ओवरफ्लो होने के कारण आसपास के गांवों को खाली कर दिया गया है। दमणगंगा और ओररंग नदी भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। प्रशासन ने स्कूलों और कालेजों में सोमवार को छुट्टी की घोषणा कर दी है।

gujraat heavy rain

अहमदाबाद : मानसून आते ही दक्षिण गुजरात में बारिश के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। वलसाड़, वापी में 10 इंच बारिश होने से पूरा शहर टापू में बदल गया है। यहां भारी बारिश होने से सड़कें बह गई हैं। लोगों के घरों व दुकानों में पानी भर गया है। सड़क व रेल यातायात प्रभावित हुआ है।

बिलखाड़ी और मधुबन डेम ओवरफ्लो होने के कारण आसपास के गांवों को खाली कर दिया गया है। दमणगंगा और ओररंग नदी भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। प्रशासन ने स्कूलों और कालेजों में सोमवार को छुट्टी की घोषणा कर दी है।

ये भी देखें : एक बार फिर अनुभव सिन्हा के साथ अनुभव करेंगी तापसी पन्नू

बारिश के कारण लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा है और अहमदाबाद-मुंबई हाइवे का यातायात प्रभावित हुआ है

प्रदेश में पिछले 24 घंटों में 124 तहसीलों मे बारिश हुई है। वलसाड के उमगाम, केलासनगर, जीआईडीसी इलाके भीलोड़ा टोलटेक्स में सड़कें टूट कर बहने लगी हैं। इस कारण लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। अहमदाबाद-मुंबई हाइवे का यातायात प्रभावित हुआ है। मुबई की ओर जाने वाली कई ट्रेनें चार से पांच घंटे देरी से चल रही है। बारिश के चलते यहां लोगों के घरों व पार्किंगों में दो-दो फुट पानी भर गया है।

वापी में 10 इंच बारिश होने से सभी अंडरपास बंद कर दिये गये है। यहां गुंज क्षेत्र में लोगों के दुकानों व मॉल में पानी भर जाने से लाखों का नुकसान हुआ है। वापी के बिलखाड़ी डेम ओवरफ्लो होने से आसपास के गांवों मे पानी भर गया है। प्रशासन ने सुरक्षा को देखते हुए कई गांवों को खाली करा दिया है।

ये भी देखें : OMG: नौकरी की तलाश में इराक गये 50 भारतीय युवक फंसे

दक्षिण गुजरात के अलावा मध्य गुजरात के वड़ोदरा में आज दोपहर जमकर बारिश हुई । यहां एक घंटे में 3 इंच बारिश होने से मांडवी, न्यायमंदिर, वाघोडिया रोड, अहमदाबादी पोल, रावपुरोड, आजवारोड, हरणी रोड, मुक्तनंद चौराह सहित कई इलाकों में पानी भर गया है। प्रदेश में नवसारी जिले में छह इंच बारिश होने से जगह-जगह पानी भर गया है।

पिछले 24 घंटे में वलसाड के 10 इंच, वापी में 10 इंच, धरपुर में 7.9 इंच, नवसारी में छह इंच, मेहमदाबाद में 4.15 इंच, सूरत में चार इंच, भरुच ज-ले में 4.3 इंच, महुवा में 4.2इंच, वडोदरा में तीन इंच बारिश हुई है।

ये भी देखें : कांग्रेस में लगातार इस्तीफे का दौर जारी, सिंधिया के बाद इन्होंने छोड़ा पद

मौसम विभाग के निदेशक जंयत सरकार ने बताया कि दक्षिण गुजरात में आगामी 48 घंटे आफत के है

मौसम विभाग के निदेशक जंयत सरकार ने बताया कि दक्षिण गुजरात में आगामी 48 घंटे आफत के है। यहां सूरत, वलसाड़, वापी, अंकलेश्वर, भरुच, वड़ोदरा में भारी बारिश होगी। तमाम बंदरगाहों पर अलर्ट कर दिया गया है। मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है। उधर, प्रशासन ने बताया कि दक्षिण गुजरात में बारिश के चलते अधिकारियों की छुट्टी रद्द कर दी गई। एनटीआरएफ की टीम को हाईअलर्ट पर रखा गया है।