×

बड़ी खबर: किसान, मजदूर और आढ़तियों का सरकार कराएगी 10-10 लाख का बीमा

हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा, 'सरकार किसानों की उपज का एक-एक दाना खरीदने के लिए तैयार है। प्रदेश में 15 से सरसों और 20 अप्रैल से गेहूं की खरीद जारी है'।

Aditya Mishra
Updated on: 24 April 2020 7:12 AM GMT
बड़ी खबर: किसान, मजदूर और आढ़तियों का सरकार कराएगी 10-10 लाख का बीमा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

चंडीगढ़: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा, 'सरकार किसानों की उपज का एक-एक दाना खरीदने के लिए तैयार है। प्रदेश में 15 से सरसों और 20 अप्रैल से गेहूं की खरीद जारी है'।

हरियाणा सरकार इस साल 75 लाख टन गेहूं खरीदेगी। गेहूं बेचने वाले किसानों के लिए 22 हजार करोड़ रुपये रिजर्व रखा गया है, ताकि किसान को तुरंत पैसा मिले।

डिप्टी सीएम ने ये भी कहा कि अन्नदाता के एक-एक दाने का पैसा खरीद के साथ ही उसे मिले इसलिए सरकार ने आढ़तियों को उनके पुराने बैंक खातों से खरीद का भुगतान करने की अनुमति दी है।

सीएम योगी ने किया ऐलान, किसानों को मिलेगा अब इतना मुआवजा

मंडियों में कोरोना से बचाव के उचित प्रबंध

लगभग 22 हजार करोड़ रुपये गेहूं की खरीद के भुगतान के लिए और आढ़तियों को भी उनकी 2.5 प्रतिशत आढ़त का पैसा साथ-साथ मिलता रहे इसके लिए सरकार ने 275 करोड़ रुपये रिजर्व रखे हैं।

जैसे ही मंडियों से गेहूं का उठान होगा किसान व आढ़ती दोनों का भुगतान हो जाएगा। चौटाला ने बताया कि मंडियों तिरपाल, पंखा, मास्क सेनेटाइर, बारदाना आदि का उचित प्रबंध किया गया है।

यूपी में पहली बार हुआ ऐसा, किसानों की 62 पर्सेंट खरीदारी हुई डोर स्टेप से

किसान, मजदूर और आढ़तियों का बीमा

उन्होंने हरियाणा में पंजाब से अधिक गेहूं की खरीद करने की बात कही। चौटाला ने बताया कि सरकार ने खरीद प्रक्रिया से जुड़े सभी व्यक्तियों, चाहे वह किसान, आढ़ती है, मजदूर या खरीद एजेंसियों के कर्मचारी हैं, कोविड-19 के संक्रमण को देखते हुए इन सभी के लिए 10-10 लाख रुपये का जीवन बीमा कवर देने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में किसानों ने बड़ा ही सराहनीय काम किया है। इस अवधि के दौरान न तो दूध के और न ही सब्जियों के दाम बढ़ाएं हैं। चौटाला ने ये भी कहा कि कई मंडियों में जाकर उन्होंने स्वयं खरीद प्रक्रिया को परखा है।

अब मण्डियों में भीड़ नहीं लगेगी, किसानों को नजदीक में उत्पाद बेचने की मिलेगी सुविधा

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story