HIV की नहीं, ये दवा कोरोना मरीजों पर असरदार: स्वास्थ्य मंत्रालय का दावा

कोरोना वायरस के इलाज को लेकर कई तरह की दवाइयों के बात की जा रही है। कभी दावा किया जाता है कि एचआईवी की दवाएं कोरोना मरीजों को स्वस्थ करने में कारगर हैं तो कभी कहा जाता है कि विटामिन सी के हाई डोज से पीड़ित 7/8 दिन में ठीक हो जा रहे हैं। हालाँकि इस बारे में भारतीय केंद्र स्वास्थ्य मंत्रालय ने नई गाइड लाइन जारी की है।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के इलाज को लेकर कई तरह की दवाइयों के बात की जा रही है। कभी दावा किया जाता है कि एचआईवी की दवाएं कोरोना मरीजों को स्वस्थ करने में कारगर हैं तो कभी कहा जाता है कि विटामिन सी के हाई डोज से पीड़ित 7/8 दिन में ठीक हो जा रहे हैं। हालाँकि इस बारे में भारतीय केंद्र स्वास्थ्य मंत्रालय ने नई गाइड लाइन जारी की है। जिसके मुताबिक़, कोरोना मरीजों को मलेरियारोधी दवाएं देने को कहा गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना के इलाज के लिए जारी की नई गाइडलाइन

दरअसल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना के इलाज को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है। इस गाइडलाइन में कहा गया कि संक्रमित इलाज के दौरान आईसीयू में पहुंचे, तो उन्हें मलेरियारोधी दवा ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन को एजीथ्रोमाइसिन’ दी जाएँ। अपडेट गाइडलाइन में कहा कि यह दवा 12 साल से छोटे बच्चों, गर्भवती महिलाओं व प्रसूताओं के लिए नहीं है।

ये भी पढ़ेंःकर्मचारियों को तगड़ा झटका: इन राज्य सरकारों ने लिया ये बड़ा फैसला

 

मलेरियारोधी दवा असरदार, एंटी HIV दवा उपयुक्त नहीं

इतना ही नहीं मंत्रालय ने इसके पहले कोरोना के इलाज में इस्तेमाल हो रही एंटी एचआईवी दवाओं के उपयोग पर भी रोक लगा दी। मंत्रालय ने कहा कि पहले एंटी एचआईवी दवाओं के कॉम्बिनेशन लोपिनाविर और रिटोनाविर को इससे पहले सुझाया गया था, जिन्हें अब हटा लिया गया है। इन्हें इलाज में उपयुक्त नहीं पाया गया।

ये भी पढ़ेंः कोरोना ने दुनियाभर में मचाई तबाही, अब रूस के राष्ट्रपति पुतिन पर आई बड़ी खबर

इलाज के लिए अबतक कोई पक्की दवा नहीं

वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी कि फिलहाल अभी कोरोना के इलाज के लिए कोई पक्की और उपयुक्त दवा नहीं बनी है, हालाँकि कुछ दवाएं हैं जो संक्रामितों पर असरदार हैं।

मौतें ही मौतें: कोरोना से अमेरिका में मची तबाही,100 साल के इतिहास को छोड़ा पीछे

विटामिन सी की दवाओं से कोरोना मरीजों को ठीक करने का दावा

गौरतबल है कि इसके पहले एंटी एचआईवी की दवाओं के अलावा अमेरिका में हुए एक शोध के आधार पर कहा गया था कि विटामिन सी का हाई डोज भी कोरोना मरीजों पर असरदार है। अमेरिका ने एक प्रयोग किया है। अमरीका के डॉक्टर्स ने कोरोना वायरस से पीड़ित कुछ मरीजों को विटामिन सी की भारी मात्रा में खुराक दी। हैरान करने वाली बात ये हैं कि इसके परिणाम भी सकारात्मक आये।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।