Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

गिरेगा प्रियंका का घर: कंगना का बदला लेंगे फैन्स, चल रहा जोरों से विरोध

कंगना रनौत हिमाचल की शेरनी बेटी और बॉलीवुड की क्वीन का मुंबई बांद्रा स्थित ऑफिस का एक हिस्सा महाराष्ट्र सरकार और शिवसेना नेता संजय राउत ने बीएमसी का सहारा लेते हुए तुड़वा दिया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 9 Sep 2020 1:21 PM GMT

गिरेगा प्रियंका का घर: कंगना का बदला लेंगे फैन्स, चल रहा जोरों से विरोध
X
कंगना रनौत का मुंबई बांद्रा स्थित ऑफिस का एक हिस्सा महाराष्ट्र सरकार और शिवसेना नेता संजय राउत ने बीएमसी का सहारा लेते हुए तुड़वा दिया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शिमला। कंगना रनौत हिमाचल की शेरनी बेटी और बॉलीवुड की क्वीन का मुंबई बांद्रा स्थित ऑफिस का एक हिस्सा महाराष्ट्र सरकार और शिवसेना नेता संजय राउत ने बीएमसी का सहारा लेते हुए तुड़वा दिया। बीएमसी ने पहले बीते मंगलवार को अवैध निर्माण की नोटिस भेजी थी। इसके बाद बुधवार सुबह बीएमसी की टीम ने कंगना के ऑफिस को उनके मुंबई पहुंचने से पहले तोड़फोड़ अभियान चला दिया था। हालाकिं बाद में बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी की कार्रवाई को रोक दिया।

ये भी पढ़ें... सेना बेहद चौकन्ना: चीन कभी भी छेड़ सकता है युद्ध, बढ़ी AIR एक्टिविटीज

प्रियंका गांधी के घर को गिराने की मांग

ऐसे में अब कंगना रनौत के साथ खड़े उनके फैंस ने विरोध में टि्वटर पर हिमाचल के शिमला में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के घर को गिराने की मांग कर रहे हैं। इसके चलते एक यूजर ने ट्वीट कर कहा कि शिमला में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी का घर भी अवैध है, इसे भी तोड़ दिया जाए। इस पोस्ट पर यूजर ने सीएम जयराम ठाकुर को भी टैग किया है।



इसके चलते एक अन्य यूजर ने लिखा कि शिमला में प्रियंका गांधी ने शानदार घर बनाया है, लेकिन मुझे नहीं मालूम उन्हें यहां जमीन कैसे मिली है। साथ ही एक महिला यूजर ने लिखा,“हिमाचल सरकार को भी शिमला में प्रियंका गांधी के घर को तोड़ देना चाहिए।”

ये भी पढ़ें...कंगना रनौत के खिलाफ अन्याय हुआ है, शिवसेना को शांत रहने की जरूरत: रामदास अठावले



तोड़ दिया गया

हिमाचल में सन् 2008 में साढ़े चार बीघा जमीन पर प्रियंका का घर बनना शुरू हुआ था। हिमाचल कांग्रेस के नेता केहर सिंह खाची के नाम पर जमीन की पावर ऑफ अटॉर्नी है। साल 2011 में दो मंजिला बनने के बाद डिजाइन पसंद न आने पर इसे तोड़ दिया गया था।

इसके साथ ही प्रियंका को मकान बनाने के लिए तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने लैंड रिफॉर्म्स एक्ट के सेक्शन 118 में नियमों में ढील दी थी। इस सेक्शन के तहत हिमाचल से बाहर रहने वाले लोग जमीन नहीं खरीद सकते हैं।

बता दें, वर्ष 2007 में इस जमीन की मार्केट वेल्यू करीब एक करोड़ रुपए बीघा थी, जबकि प्रियंका गांधी को मकान बनाने के लिए 4 बीघा जमीन 47 लाख रुपए में दी गई। मकान को लेकर प्रियंका को हाईकोर्ट से नोटिस भी मिला था।

ये भी पढ़ें...कल राफेल की एंट्री: चीन को जल्द मिलेगा सबक, भारत के हाथों में है लगाम

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story