हैदराबाद रेप खुलासा: मरा समझकर जलाने जा रहे थे आरोपी, उस वक्त…

सूत्रों की मानें तो गैंगरेप और हत्या के इस घिनौने अपराध के मुख्य आरोपी मोहम्मद पाशा ने बताया है कि जिस वक्त चारों आरोपी डॉक्टर को मरा समझकर जलाने जा रहे थे, उस वक्त वह जिंदा थी।

नई दिल्ली: 29 नवंबर को हैदराबाद में हुए महिला डॉक्टर के साथ गैंगरैप केस में अब एक नया खुलासा सामने आया है। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ गैंगरैप के बाद हत्या करके उसका शव जलाने वाले सभी आरोपियों को सात दिन के लिए पुलिस कस्टडी में भेज दिया है। पुलिस कस्टडी में आरोपियों ने इस मामले से जुड़े कई अहम खुलासे किए हैं।

सूत्रों की मानें तो गैंगरेप और हत्या के इस घिनौने अपराध के मुख्य आरोपी मोहम्मद पाशा ने बताया है कि जिस वक्त चारों आरोपी डॉक्टर को मरा समझकर जलाने जा रहे थे, उस वक्त वह जिंदा थी।

ये भी पढ़ें—Daniel Shravan ने ‘Disha’ पर लिखा पोस्ट, condom लेकर चलें महिलाएं, लड़कों का मूड बन जाता है

पाशा ने बताया कि गैंगरेप के बाद महिला भाग ना जाए, इसलिए उन लोगों ने उसके हाथ-पैर बांध दिए थे। पाशा के मुताबिक, उन चारों ने रेप के बाद भी पीड़िता को जबरन शराब पिलाई। जब वह बेहोश हो गई, तब उसे लॉरी में डालकर पुल के नीचे ले गए। इसके बाद पुल के नीचे ही पेट्रोल से पीड़िता को जिंदा जला दिया।

आरोपियों को लगा कि महिला मर चुकी है, तभी..

आरोपी की मानें तो उनको लगा कि महिला मर चुकी है, लेकिन जब उन्होंने आग लगाई, तो वह चिल्लाने लगी। वे लोग काफी देर तक महिला को जलते हुए देखते रहे। उन्हें लगा कि पुलिस की पकड़ में आ जाएंगे, इसलिए पीड़िता को मार दिया।

ये भी पढ़ें—राहुल गांधी नहीं ये राजकुमार संभालेंगे कांग्रेस की विरासत?

बता दें कि 29 नवंबर को हैदराबाद के साइबराबाद टोल प्लाजा के पास ही एक महिला की जली हुई लाश मिली थी। जब पहचान की गई तो पता चला कि वो एक वेटनरी डॉक्टर कि थी। पुलिस की माने तो महिला के साथ पहले गैंगरैप किया गया फिर उसकी लाश को पेट्रोल से जलाकर फ्लाईओवर के नीचे फेंक दिया गया। वारदात में शामिल चारों आरोपियों की पहचान मोहम्मद पाशा, नवीन, चिंताकुंता केशावुलु और शिवा के रूप में हुई। जांच पड़ताल में पता चला कि आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने के लिए साजिश के तहत महिला डॉक्टर की स्कूटी पंक्चर की थी, ताकि वे महिला डॉक्टंर को अपने जाल में फंसाकर वारदात को अंजाम दे सके।

ये भी पढ़ें—मोदी-शाह पर गरजे राहुल: वायनाड में दिया ये बड़ा बयान

इस घटना के सामने आने के बाद देश में काफी भावनात्मक माहौल चल रहा है सब लोग अपनी देश की बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए सड़क पर उतर चुके हैं, और आरोपियों को फांसी के फंदे पर लटकाने की कोर्ट से गुहार लगा रहे हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App