भारत-चीन के बीच समझौता! LAC पर सैनिकों की तैनाती पर रोक, सुधरेंगे हालात

भारत और चीन के बीच लद्दाख में एलएसी पर तनाव को लेकर हुई हाईलेवल बैठक में ‘नो एक्शन एग्रीमेंट’ पर सहमति बनी है। जिसके बाद अब सीमा पर ज्यादा सैनिक नहीं बढ़ाये जाएंगे।

India- China agreed to stop sending more troops to ladakh frontline

भारत-चीन के बीच समझौता (File Photo)

नई दिल्ली: लद्दाख में भारत और चीन के बीच जारी तनाव कम करने के लिए भारत और चीन के बीच सोमवार को लंबी बातचीत हुई। इसके बाद मंगलवार को दोनों ओर से जारी साझा बयान में कहा गया कि एकतरफा कार्रवाई नहीं करने और दोनों देशों के नेताओं द्वारा महत्वपूर्ण सहमति को लागू करने के अलावा दोनों जल्द ही सातवें दौर की वार्ता करने को राजी हो गए हैं।

भारत-चीन के बीच ‘नो एक्शन एग्रीमेंट’ पर सहमति बनी

भारत और चीन के बीच लद्दाख में एलएसी पर तनाव को लेकर हुई हाईलेवल बैठक में ‘नो एक्शन एग्रीमेंट’ पर सहमति बनी है। जिसके बाद अब सीमा पर ज्यादा सैनिक नहीं बढ़ाये जाएंगे। बता दें कि दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण माहौल को सामान्य बनाने को लेकर बैठकों का दौर जारी है। यदि कड़ी में बीते दिन दोनों देशों के सैन्य कमांडर्स के बीच करीब 13 घंटे तक बातचीत हुई।

चीन के सामने भारत ने रखी थी शर्त

सूत्रों के मुताबिक, इस बातचीन के दौरान भारत ने चीन के सामने कड़ी शर्ते रखीं थी। भारत ने कहा कि चीन को पैंगोंग झील और डेपसांग सहित सभी तनावग्रस्त जगहों से अपने सैनिक हटाने होंगे। भारत ने जोर देकर कहा कि चीन की सेना ने भारतीय जमीन पर घुसपैठ का प्रयास किया है और इसलिए उसे पीछे हटकर सीमा विवाद को सुसझाने की दिशा में ठोस कदम उठाने होंगे।

ये भी पढ़ेंः इस मुस्लिम देश ने भारत के खिलाफ उगला जहर, कश्मीर पर कही ऐसी बात

मोर्चे पर अधिक सैनिकों को भेजने से रोकने पर सहमति बनी

हालंकि बाद में आज दोनों देशों की ओर से साझा बयान जारी कर कहा गया कि उनके बीच एलएसी को लेकर महत्वपूर्ण सहमति हुई है। जिसमे जमीनी स्तर कम्युनिकेशन को मजबूत करने और गलतफहमी से बचने के अलावा मोर्चे पर अधिक सैनिकों को भेजने से रोकने पर सहमति बनी है।

India-China

7 वे दौर की सैन्य कमांडर-स्तरीय बैठक जल्द

इसके अलावा दोनों देश 7 वे दौर की सैन्य कमांडर-स्तरीय बैठक को लेकर राजी हो गए हैं। संयुक्त रूप से एलएसी पर शांति और अमन बनाए रखने पर सहमति बनी है।

ये भी पढ़ेंः चीन ने गिराए अमेरिका पर बम: वीडियो किया जारी, निकला पूरा फिल्मी

दोनों पक्षों की बातचीत के बाद कूटनीतिक बातचीत के रास्ते नए सिरे से खुलने की संभावना दिख रही है। अब हर किसी की नजर दोनों पक्षों के बीच हुई बातचीत के बाद चीन की ओर से उठाए जाने वाले कदमों पर टिकी है। वैसे पहले हुई बातचीत में तय किए गए बिंदुओं पर चीन की ओर से कोई कदम न उठाए जाने के कारण दोनों देशों के बीच गतिरोध खत्म नहीं हो पा रहा है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App