इज़रायल को लेकर भारत का ऐतिहासिक फैसला, UN में पहली बार उठाया यह कदम

भारत ने अपने पुराने रुख से हटते हुए संयुक्त राष्ट्र (UN) की आर्थिक और सामाजिक परिषद (ECOSOC) में इज़रायल के समर्थन में मतदान किया है। यह वोटिंग संयुक्त राष्ट्र में फिलस्तीन के मानवाधिकार संगठन ‘शहीद’ को पर्यवेक्षक का दर्जा देने के लिए हुई थी।

संयुक्त राष्ट्र: भारत ने अपने पुराने रुख से हटते हुए संयुक्त राष्ट्र (UN) की आर्थिक और सामाजिक परिषद (ECOSOC) में इज़रायल के समर्थन में मतदान किया है। यह वोटिंग संयुक्त राष्ट्र में फिलस्तीन के मानवाधिकार संगठन ‘शहीद’ को पर्यवेक्षक का दर्जा देने के लिए हुई थी।

इज़रायली प्रस्ताव में फलस्तीन के एक गैर-सरकारी संगठन को सलाहकार का दर्जा दिए जाने पर आपत्ति जतायी गयी थी। इज़रायल ने कहा कि संगठन ने हमास के साथ अपने संबंधों का खुलास नहीं किया था।

यह भी पढ़ें…ऐसा क्या कह दिया प्रियंका गांधी ने, बौखला गई BJP

इज़रायल ने संयुक्त राष्ट्र की आर्थिक और सामाजिक परिषद में छह जून को मसौदा प्रस्ताव ‘‘एल.15’’ पेश किया। इस प्रस्ताव के पक्ष में रिकार्ड 28 मत पड़े जबकि 15 देशों ने इसके खिलाफ मतदान किया जबकि पांच देशों ने मत विभाजन में भाग नहीं लिया।

प्रस्ताव के पक्ष में मतदान करने वाले देशों में ब्राजील, कनाडा, कोलंबिया, फ्रांस, जर्मनी, भारत, आयरलैंड, जापान, कोरिया, यूक्रेन, ब्रिटेन, और अमेरिका शामिल हैं।

यह भी पढ़ें…तीन तलाक मामले में सीएम को करना पड़ा हस्तक्षेप जानिए क्या है मामला

परिषद ने एनजीओ के आववेदन को लौटाने का फैसला किया क्योंकि इस साल की शुरुआत में जब उसके विषय पर विचार किया जा रहा था, गैर-सरकारी संगठन महत्वपूर्ण जानकारी पेश करने में विफल रहा।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App