दमदार मारक मिसाइल: ‘नाग और संत’ करेंगे ऐसा घातक हमला, कांपेगा चीन-पाक

गुरुवार की सुबह 6:45 बजे राजस्थान के पोखरण फील्ड फायरिंग रेंज में ‘नाग’ एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का सफल परिक्षण हु्आ। ये नाग के अंतिम चरण का ट्रायल रहा।

DRDO final tested NAG anti Tank Missile Soon Trial Sant Missile

नाग और संत एंटी टैंक मिसाइल का परिक्षण (photo social media)

नई दिल्ली. भारत-चीन तनाव के बीच देश लगातार मिसाइलों का परीक्षण कर रहा है और सफलता प्राप्त कर रहा है। पिछले दो महीनों में भारत ने 12 मिसाइलों का सफल परीक्षण किया। इसी लिस्ट में अब दो नाम और जुड़ गए हैं। देश ने आज सुबह वारहेड के साथ ‘नाग’ एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल के अंतिम चरण का सफलतापूर्वक परीक्षण किया। इसके अलावा दुश्मन देशों की नींद उड़ाने के लिए भारत जल्द ही संत एंटी टैंक मिसाइल का ट्रायल करने की तैयारी में हैं।

‘नाग’ एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल के अंतिम चरण का सफल ट्रायल

दरअसल, गुरुवार की सुबह 6:45 बजे राजस्थान के पोखरण फील्ड फायरिंग रेंज में ‘नाग’ एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का सफल परिक्षण हु्आ। ये नाग के अंतिम चरण का ट्रायल रहा। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने नाग मिसाइल को विकसित किया है।

DRDO final tested NAG anti Tank Missile Soon Trial Sant Missile

नाग मिसाइल की खासियत:

नाग मिसाइल पूरी तरह से देसी है। नाग की खासियत ये है कि इस मिसाइल में अचूक निशाना लगाने की क्षमता है। ये दुश्मन के टैंक को नष्ट कर सकती है। ये वजन में काफी हल्की होती है।

ये भी पढ़ें- मोदी-जिनपिंग का सामना: तनाव के बीच पहली बार मुलाक़ात, 3 बैठकों पर टिकीं निगाहें

संत का ट्रायल करने वाला है भारत:

इसके लावा भारत सबसे दमदार मिसाइल का परीक्षण करने वाला है। नाग के बाद अब भारतीय सेना के खेमे में संत एंटी मिसाइल भी परीक्षण के बाद शामिल हो जायेगा। भारत ऐसी एयर-लॉन्च मिसाइल को डेवलप कर रहा है, जो 10 किलोमीटर से अधिक की दूरी से ही दुश्मन के टैंक को मार गिराने में सक्षम होगी।अधिकारियों का कहना है कि महत्वपूर्ण ट्रायल दो महीने के भीतर किया जाएगा।

DRDO final tested NAG anti Tank Missile Soon Trial Sant Missile

संत एंटी टैंक मिसाइल की खासियत:

स्वदेशी मिसाइल स्टैंड-ऑफ एंटी-टैंक मिसाइल (SANT- संत) को लेकर कहा जा रहा है कि ये भारतीय वायु सेना के MI -35 अटैक हेलीकॉप्टर्स को एक बेहतर दूरी से दुश्मन के टैंक को नष्ट करने की क्षमता दे सकेगा।

ये भी पढ़ें- चंद सेकंड में तबाही मचा देगा ये ट्रक, दुनिया में मची खलबली, जानिए ऐसा क्या है इसमें

बता दें कि वर्तमान में Mi-35 रूसी Shturm मिसाइल 5 किमी की रेंज में टैंकों को निशाना बना सकने की क्षमता रखता है। वहीं SANT को दिसंबर में पहली बार Mi-35 हेलिकॉप्टर से लॉन्च किया जाएगा, जो भारतीय हथियारों की दुनिया में एक मील का पत्थर साबित हो सकता है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App