Top

2050 में भारत होगा आगे: दुनिया में अर्थव्यवस्था के तीसरे पायदान पर होगा काबिज

महामारी की वजह से नीचे गिरती अर्थव्यवस्था को लेकर बड़ी जानकारी सामने आई है। बड़ी खबर ये है कि जापान को पीछे छोड़ते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था साल 2050 यानी 30 साल बाद दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगी।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 10 Oct 2020 11:03 AM GMT

2050 में भारत होगा आगे: दुनिया में अर्थव्यवस्था के तीसरे पायदान पर होगा काबिज
X
यूपी के हाथरस में कथित तौर पर हुए गैंगरेप केस में नक्सल की बात सामने आने के बाद से हड़कंप मच गया है। SIT की टीम जबलपुर की महिला की तलाश में जुटी हुई है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। महामारी के वजह से नीचे गिरती अर्थव्यवस्था को लेकर बड़ी जानकारी सामने आई है। बड़ी खबर ये है कि जापान को पीछे छोड़ते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था साल 2050 यानी 30 साल बाद दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगी। ऐसे में भारत से आगे पहले नंबर पर अमेरिका और दूसरे नंबर पर चीन होगा। इसी कड़ी में लैंसेंट की एक मेडिकल पत्रिका की एक स्टडी में इस बारे में जानकारी दी गई है। इस पत्रिका में दुनियाभर के देशों में काम करने वाली आबादी के बारे में अध्ययन किया गया है।

बता दें, सन् 2017 में भारत दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था थी। ऐसे में इसी को आधार मानते हुए एक अध्ययन में कहा गया कि 2030 तक भारत चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।

ये भी पढ़ें... हाथरस नक्सल कनेक्शन: एक के बाद एक हो रहे खुलासे, संदिग्ध महिला आई सामने

फ्रांस और ब्रिटेन भी भारत से आगे

सन् 2030 में भारत से आगे अमेरिका, चीन और जापान होंगे। वहीं वर्तमान की बात करें तो भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। इस वक्त फ्रांस और ब्रिटेन भी भारत से आगे हैं।

ऐसे में देश की केंद्र सरकार का अनुमान भी कुछ इसी प्रकार है। इस बारे में नीति आयोग के चेयरमैन राजीव कुमार ने इसी साल मई में कहा था कि साल 2047 तक भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।

economy फोटो-सोशल मीडिया

लेकिन कोरोना वायरस महामारी और अर्थव्यवस्था पर पड़ते इसके प्रभाव को देखते हुए मौजूदा अनुमान कम आशावादी दिखाई दे रहा है।

बीते साल दिसंबर में जापान के सेंटर फॉर इकोनॉमिक रिसर्च ने अपनी एक रिसर्च में कहा था कि 2029 तक जापान को पछाड़ कर भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।

ये भी पढ़ें...फ़िक्की-आदित्य बिड़ला समूह ने स्वास्थ्य मंत्री को सौंपें नौ हज़ार पीपीई किट

आबादी के मामले में टॉप पर

बता दें, जापान का ये अनुमान कोरोना वायरस आउटब्रेक से पहले का था। लेकिन कोरोना महामारी की वजह से अनुमान लगाया जा रहा है कि 2025 तक भारत के 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने में भी देर हो सकती है।

वहीं लेंसेट(Lancet) पेपर इस बात की भी चेतावनी दी गई कि चीन और भारत में काम करने की आबादी में भारी गिरावट आई है। इस बीच नाइजीरिया में काम करने वाली आबादी में बढ़ोत्तरी होगी।

लेकिन इसके बाद भी भारत काम करने वाली आबादी के मामले में टॉप पर होगा। साथ ही इसमें कहा गया कि 2100 तक भारत दुनियाभर में सबसे ज्यादा काम करने वाली आबादी बना रहेगा। और फिर भारत के बाद नाइजीरिया, चीन और अमेरिका का नंबर होगा।

ये भी पढ़ें...कोरोना के बाद नई बीमारी: फेफड़ों को तेजी से करती खराब, अब फिर बढ़ा खतरा

Newstrack

Newstrack

Next Story