चीन की हालत खराब: भारत ने बनाया 14650 फीट की ऊंचाई पर पुल, यहां देखें…

भारतीय सेना को कर्नल चेवांग रिनचेन ब्रिज का गिफ्ट मिला है। लद्दाख क्षेत्र में भारत ने चीन की सीमा पर 1400 फीट लंबे पुल को बनाया है। चीन की सीमा से करीब 45 किलोमीटर दूर पूर्वी लद्दाख में स्थित इस पुल का उद्घाटन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया।

नई दिल्ली: भारतीय सेना को कर्नल चेवांग रिनचेन ब्रिज का गिफ्ट मिला है। लद्दाख क्षेत्र में भारत ने चीन की सीमा पर 1400 फीट लंबे पुल को बनाया है। चीन की सीमा से करीब 45 किलोमीटर दूर पूर्वी लद्दाख में स्थित इस पुल का उद्घाटन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया।

इस मौके पर राजनाथ सिंह ने देश के सामने आने वाले किसी भी संभावित खतरे से प्रभावी तौर से निपटने के लिए सीमा पर बुनियादी ढांचे को मजबूत करने की सरकार की प्रतिबद्धता दोहरायी। इस मौके सेना प्रमुख बिपिन रावत भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें…मालामाल हो जाएंगे भारतीय, इस रिपोर्ट में किया गया बड़ा दावा

इसे पुल के बनने के बाद इससे चीन की चिंता बहुत बढ़ गई है, क्योंकि ये पुल चीन की सीमा पर भारतीय सेना की ताक़त को दोगुनी करता है।

1400 फीट की लंबाई वाला यह पुल एक सामान्य सा पुल दिखता, लेकिन इस छोटे से पुल की वजह से चीन चिंता में पड़ गया है। चीन की तमाम धमकियों के बाद भी भारतीय सैनिकों ने उसकी आंखों में आंखें डालकर इस पुल का निर्माण किया है।

यह भी पढ़ें…इंतजार खत्म: करतारपुर कॉरिडोर का रजिस्ट्रेशन शुरु, 9 नवंबर को PM करेंगे उद्घाटन

इस पुल की खासियत यह है कि भारतीय सेना अब तय समय से पहले चीन सीमा पर पहुंच सकते हैं। इसके अलावा सेना के बड़े-बड़े टैंक भी बहुत आसानी से इस पुल से एलएसी पर पहुंच जायेंगे।

यह भी पढ़ें…तो नहीं मिलेगी नौकरी! सरकार का बड़ा फैसला, भूल से मत करिएगा ये काम

यह पुल लद्दाख क्षेत्र में दुरबुक और दौलत बेग ओल्डी रोड पर श्योक नदी के ऊपर बनाया गया है। यह 14650 फीट की ऊंचाई पर स्थित है।