तो नहीं मिलेगी नौकरी! सरकार का बड़ा फैसला, भूल से मत करिएगा ये काम

आए दिन जनसंख्या नियंत्रण पर बात होती रहती है। अब इस दिशा में असम की बीजेपी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। असम की सर्बानंद सोनोवाल सरकार ने मंगलावार को बड़ा फैसला लिया है कि 1 जनवरी 2021 से जिसके दो से ज्यादा बच्चे हैं।

गुवाहाटी: आए दिन जनसंख्या नियंत्रण पर बात होती रहती है। अब इस दिशा में असम की बीजेपी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। असम की सर्बानंद सोनोवाल सरकार ने मंगलावार को बड़ा फैसला लिया है कि 1 जनवरी 2021 से जिसके दो से ज्यादा बच्चे हैं उनको सरकारी नौकरी नहीं मिलेगी। असम कैबिनेट की अहम बैठक में ये महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है।

यह भी पढ़ें…इंतजार खत्म: करतारपुर कॉरिडोर का रजिस्ट्रेशन शुरु, 9 नवंबर को PM करेंगे उद्घाटन

मिली जानकारी के मुताबिक न सिर्फ नौकरी पाने के लिए बल्कि पूरी नौकरी तक दो ज्यादा बच्चे नहीं चाहिए। अगर दो से ज्यादा बच्चे होते हैं तो नौकरी से हाथ धोना पड़ सकता है।

असम विधानसभा में सितंबर 2017 में जनसंख्या और महिला सशक्तिकरण नीति को पास किया था जिसके तहत जिनके दो बच्चे हैं वे ही सरकारी नौकरी के लिए योग्य रहेंगे। इसके साथ ही मौजूदा सरकारी कर्मचारियों को भी सख्ती से दो बच्चों की नीति का पालन करना होगा।

यह भी पढ़ें…आतंकी कैंपों पर हमले से पागल हुआ पाकिस्तान, कहा- अब होगा सीधे परमाणु युद्ध

असम कैबिनेट की बैठक में नयी भूमि नीति को भी मंजूरी मिल गई है। नई भूमि नीति के मुताबिक भूमिहीन लोगों को तीन बीघा कृषि भूमि और एक मकान बनाने के लिए आधा बीघा जमीन मिलेगी।

यह भी पढ़ें…INX मीडिया केस: अभी-अभी पी चिदंबरम पर सुप्रीम कोर्ट का आया बड़ा फैसला

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के जनसंपर्क विभाग के एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि छोटे परिवार के मानक के मुताबिक एक जनवरी 2021 से दो से अधिक बच्चे वालों को सरकारी नौकरी नहीं दी जाएगी।