×

जम्मू-कश्मीर में अमन की ईद, सुरक्षाबलों से गले मिल खिलाई गई मिठाई

धारा 144 के चलते राज्य में मोबाइल फोन, मोबाइल इंटरनेट और टीवी-केबिल पर पाबंदी थी, लेकिन त्यौहार को देखते हुए कुछ क्षेत्रों में फोन की सुविधा चालू की गई है। मगर अभी प्रशासन की ओर से सिर्फ कॉलिंग की सुविधा ही शुरू की गई है।

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 12 Aug 2019 6:57 AM GMT

जम्मू-कश्मीर में अमन की ईद, सुरक्षाबलों से गले मिल खिलाई गई मिठाई
X
जम्मू-कश्मीर में अमन की ईद, सुरक्षाबलों से गले मिल खिलाई गई मिठाई
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

श्रीनगर: आज कड़ी सुरक्षा के बीच जम्मू-कश्मीर में बकरीद का त्यौहार मनाया जा रहा है। राज्य में आर्टिकल 370 को कमज़ोर कर दिया गया है। हालांकि, धारा 144 अभी भी लागू है। ऐसे में जम्मू-कश्मीर के हर कोने पर सुरक्षाबल तैनात हैं।

यह भी पढ़ें: धारा 370 पर बोल पड़े पीएम, जम्मू-कश्मीर को बताया आंतरिक मामला

मगर इसके बावजूद स्थानीय लोगों ने ईद का त्योहार मनाया। इस बीच श्रीनगर समेत अन्य शहरों में लोगों ने मस्जिद में ईद की नमाज़ पढ़ी। लोगों को नमाज़ पढ़ने के लिए प्रशासन ने धारा 144 में कुछ ढील दी है।

यह भी पढ़ें: एक तरफ अजान की गूंज तो दूसरी तरफ भोले बाबा के भक्तों का हुजूम, देखें काशी का नजारा

इस बार की ईद जम्मू-कश्मीर में काफी खास रही। कश्मीर के लोग सुरक्षाबलों के साथ ईद मनाते और मिठाई खिलाते नजर आए। यही नहीं, पुलिसवालों ने भी कई मस्जिदों में मिठाई बांटी। साथ ही, लोगों ने पुलिसवालों को लगे भी लगाया। धारा 144 के कारण भारी संख्या में लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी है। इसलिए लोग थोड़ी-थोड़ी संख्या में ही एकत्रित हो रहे थे।

इंटरनेट पर थी पाबंदी

धारा 144 के चलते राज्य में मोबाइल फोन, मोबाइल इंटरनेट और टीवी-केबिल पर पाबंदी थी, लेकिन त्यौहार को देखते हुए कुछ क्षेत्रों में फोन की सुविधा चालू की गई है। मगर अभी प्रशासन की ओर से सिर्फ कॉलिंग की सुविधा ही शुरू की गई है।

यह भी पढ़ें: चमोली: बादल फटने से मचा कहर, रोंगटे खड़े कर देगा ये दृश्य

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर और आर्टिकल 370 को लेकर एक खुलासा किया है। पीएम मोदी का कहना है कि राज्य को लेकर यह फैसला काफी सोच-समझ कर लिया गया है। पीएम ने आगे कहा कि घाटी को लेकर केंद्र सरकार के पास और भी बड़ा प्लान है। इस प्लान की मदद से राज्य का विकास और ज्यादा हो पाएगा।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story