×

जम्मू-कश्मीर: अमरनाथ के बाद अब इस माता की यात्रा पर भी लगी रोक, बढ़ाई सुरक्षा

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने अमरनाथ यात्रा पर रोक लगा दिया है। इसके बाद अब किश्तवाड़ से माछिल के बीच पारंपरिक माछिल यात्रा को भी बंद करने का आदेश दिया है। यह यात्रा 25 जुलाई से शुरू हुई थी, लेकिन अब इसे सुरक्षा कारणों से बंद करने का फैसला किया गया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 3 Aug 2019 8:43 AM GMT

जम्मू-कश्मीर: अमरनाथ के बाद अब इस माता की यात्रा पर भी लगी रोक, बढ़ाई सुरक्षा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने अमरनाथ यात्रा पर रोक लगा दिया है। इसके बाद अब किश्तवाड़ से माछिल के बीच पारंपरिक माछिल यात्रा को भी बंद करने का आदेश दिया है। यह यात्रा 25 जुलाई से शुरू हुई थी, लेकिन अब इसे सुरक्षा कारणों से बंद करने का फैसला किया गया है।

इससे पहले शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के गृह विभाग ने राज्य में अमरनाथ यात्रा को बंद करने की घोषणा की थी। इस घोषणा के साथ ही जम्मू-कश्मीर में आए देशभर के तीर्थयात्रियों को वापस लौटने की सलाह दी गई थी।

यह भी पढ़ें...सिटी मजिस्ट्रेट का अमानवीयता चेहरा, कैंसर से जूझ रही महिला पर टूट पड़ी मैडम

किश्तवाड़ में चंडी माता मंदिर जम्मू-कश्मीर का एक पारंपरिक देवस्थान है। हर साल यहां एक पारंपरिक माछिल यात्रा होती है, जिसमें हिस्सा लेने के लिए राज्य के अलावा पंजाब, हरियाणा, हिमाचल और उत्तराखंड के श्रद्धालु यहां पहुंचे हैं। इस मंदिर में श्रद्धालु माता चंडी की उपासना करते हैं और इसके लिए प्रशासन खास तैयारी करता है। यात्रा के दौरान देश भर के हजारों श्रद्धालु मनोरम पद्दार घाटी की सुंदरता देखते हैं और 30 किलोमीटर कठिन मार्ग पर चलकर किश्तवाड़ के माछिल गांव में मां दुर्गा के मंदिर में पूजा-अर्चना करते हैं।

इस साल इस यात्रा को 25 जुलाई को शुरू किया गया था और जिसमें लगातार श्रद्धालुओं आ रहे थे। इसी बीच शनिवार को राज्य सरकार ने इस यात्रा को समय से पूर्व ही स्थगित करने का फैसला किया, जिसके बाद किश्तवाड़ और यात्रा रूट पर सभी यात्रियों को वापस अपने घर लौटने के निर्देश जारी किए गए। इससे पूर्व यात्रा को पांच सितंबर तक संचालित करने के इंतजाम किए गए थे।

यह भी पढ़ें...बड़ा हादसा: अभी जम्मू-कश्मीर में फटा बादल, पूरे इलाके में भारी नुकसान

बता दें कि जम्मू-कश्मीर सरकार ने शुक्रवार को सिक्यॉरिटी अडवाइजरी जारी कर अमरनाथ यात्रियों और पर्यटकों को घाटी से जितना जल्दी मुमकिन हो, लौटने की व्यवस्था करने को कहा है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story