×

इस दिग्गज क्रिकेटर ने कहा- मैच फिक्सिंग के दोषी को केवल फांसी की सजा दो...

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद आजकल सुर्खियों में हैं। मियांदाद ने युवा क्रिकेटरों से कहा है कि वे अपना ध्यान हेयर स्टाइल और लुक की बजाय खेल पर लगाएं। उन्होंने कहा कि एक खिलाड़ी को किसी मैच में या ट्रेनिंग सेशन में अपना सब कुछ देना चाहिए। बजाय इस बात ध्यान दे कि वे खुद को ग्रूम करने की सोचें। उन्होंने कहा कि अगर अपने बालों की फ्रिक है तो आपको फिल्मों में जाना चाहिए,

suman

sumanBy suman

Published on 4 April 2020 5:50 AM GMT

इस दिग्गज क्रिकेटर ने कहा- मैच फिक्सिंग के दोषी को केवल फांसी की सजा दो...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद आजकल सुर्खियों में हैं। मियांदाद ने युवा क्रिकेटरों से कहा है कि वे अपना ध्यान हेयर स्टाइल और लुक की बजाय खेल पर लगाएं। उन्होंने कहा कि एक खिलाड़ी को किसी मैच में या ट्रेनिंग सेशन में अपना सब कुछ देना चाहिए। बजाय इस बात ध्यान दे कि वे खुद को ग्रूम करने की सोचें। उन्होंने कहा कि अगर अपने बालों की फ्रिक है तो आपको फिल्मों में जाना चाहिए, क्रिकेट में नहीं।

यह पढ़ें...लॉकडाउन में पैदा हुए ‘कोरोना-कोविड, माता-पिता ने बताई नाम रखने की ख़ास वजह

विकेट की कीमत

मियांदाद ने कहा कि युवा क्रिकेटरों को बल्लेबाजी करते समय अपनी विकेट की कीमत पता होना चाहिए। जब वे गेंदबाजी कर रहे हों तो उन्हें अपना लाइन और लेंथ को परफेक्ट रखना चाहिए।यूट्यूब पर एक वीडियो चैनल में मियांदाद ने कहा कि यह बात गेंदबाजों को भी सोचनी चाहिए।

क्रिकेट में भ्रष्टाचार

जावेद मियांदाद मानना है कि जो खिलाड़ी क्रिकेट में भ्रष्टाचार करे, उसे सजा के तौर पर फांसी पर चढ़ा देना चाहिए। उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो में कहा कि जो भी क्रिकेटर इस खेल में फिक्सिंग करता है, वह अपने परिवार के साथ भी धोखाधड़ी करता है।'फिक्सिंग में शामिल क्रिकेटरों को कड़ी सजा देनी चाहिए।

यह पढ़ें...कोरोना लाया भारत-चीन को करीब: दोस्ती की 70वीं सालगिरह पर पेश की ऐसी मिसाल

रोल मॉडल

उन्होंने कहा, 'क्रिकेट से लोग जुड़ते हैं। जब आप कोई सिक्स लगाते हो या जीतते हो तो पूरी दुनिया में पाकिस्तान-पाकिस्तान गूंजता है, लोग खुशियां मनाते हैं। उन्होंने कहा, 'हमने कभी इस बात पर गौर नहीं किया कि हम मैदान पर कैसे दिखते हैं। लेकिन मैच खत्म होने के बाद आप जैसा चाहें करें। स्पोर्ट्समैन युवाओं के रोल मॉडल होते हैं। लिहाजा आपको ध्यान रखना चाहिए कि आप युवाओं के लिए किस तरह का आदर्श प्रस्तुत कर रहे हो।''

इंसानियत के लिए भी यह सही नहीं

मियांदाद ने कहा, 'मुझे लगता है कि जो खिलाड़ी फिक्सिंग करते हैं, वे अपने मां-बाप के साथ भी गलत करते हैं, उनके भी सगे नहीं होते हैं। वे अपने बहन-भाई, परिवार के साथ भी सही नहीं होते। इंसानियत के लिए भी यह सही नहीं है, और ऐसे लोगों को जिंदा रहने का अधिकार नहीं है।'

पाकिस्तान के लिए 124 टेस्ट और 233 वनडे इंटरनैशनल मैच खेलने वाले मियांदाद ने इसे इस्लाम से जोड़ते हुए कहा, 'यह बात इस्लाम में सिखाई गई बात के खिलाफ है और इसको इसी तरह से लेना चाहिए।' पाकिस्तानी के काफी क्रिकेटरों पर फिक्सिंग के आरोप लगे हैं लेकिन कई तरह की कोशिशों के बावजूद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ऐसे मामलों को खत्म नहीं कर सका है।

कोहली की तारीफ

मियांदाद ने हाल ही में भारतीय कप्तान विराट कोहली की प्रशंसा की थी। मियांदाद ने बताया था कि कोहली के कौन से गुण उन्हें महान बनाते हैं। उन्होंने कहा था, ''जब भी वह रन बनाना चाहता है बनाता है। वह हर मुश्किल को पीछे छोड़ देता है।'' उन्होंने कहा, ''मैंने उनका आचरण देखा है, वह विपक्षी टीम के प्रति भी दोस्ताना हैं। मैंने भी इसी तरह का क्रिकेट खेला है। भारतीय क्रिकेटर आक्रामक हैं, लेकिन यह आक्रामकता मैदान तक ही सीमित है।''

suman

suman

Next Story