पाकिस्तान का गंदा खेल: श्रद्धालुओं के खिलाफ रची ये साजिश, रडार पर ये 4 लोग

पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने वाले श्रद्धालुओं पर इंटेलीजेंस ब्यूरो की नजर है। इसके लिए एसपी गुरदासपुर को सूचित किया गया है।

Published by Shivani Awasthi Published: February 28, 2020 | 1:18 pm
Modified: February 28, 2020 | 1:19 pm

kartarpur sahib pilgrims on IB Radar 4 devotees Questioned

दिल्ली: पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने वाले श्रद्धालुओं पर इंटेलीजेंस ब्यूरो की नजर है। इसके लिए एसपी गुरदासपुर को चिट्ठी लिख कर सूचित किया गया है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसियां करतारपुर साहिब जाने वाले श्रद्धालुओं को कट्टर बनाने की कोशिश कर रही है।

करतारपुर साहिब जाने वाले श्रद्धालु रडार पर:

दरअसल, इंटेलीजेंस ब्यूरो ने करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने वाले चार श्रद्धालुओं को संदिग्ध माना है। बताया गया कि ये संदिग्ध जनवरी में करतारपुर साहिब गये थे। मामला पंजाब विधानसभा तक पहुंचा, जब मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने इंटेलिजेंस ब्यूरो की चिट्ठी के बारे में जानकारी दी।

ये भी पढ़ें: थर-थर कांपेंगे दंगाई: दिल्ली हिंसा पर लगेगी लगाम, अब इनको मिली कमान

आईबी ने एसपी गुरदासपुर को दी जानकारी:

इस चिठ्ठी में लिखा गया, ‘ये निम्नलिखित भारतीय नागरिक कॉरिडोर के रास्ते गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब गए थे। पूछताछ के दौरान उन्होंने तीर्थ का जो मकसद बताया, वो संतोषजनक नहीं था। कुछ भी अहम हो तो वो हमारे साथ साझा कीजिए।’

ये हैं संदिग्ध लोग, जिनपर आईबी की नजर:

बता दें कि जिन संदिग्ध लोगों पर आईबी की नजर है, उनमें गुरदासपुर का रंजीत सिंह का नाम भी शामिल है। रंजीत 25 जनवरी को करतारपुर साहिब गया था। आईबी का कहना है कि रंजीत ने पूछताछ के दौरान पाकिस्तान के सैनिकों और इमिग्रेशन स्टाफ के पेशेवर बर्ताव की तारीफ की थी।

ये भी पढ़ें: BJP पर बरसी कृपा: इन पार्टियों का हुआ बंटाधार, जानें किसको मिला कितना चंदा

पाकिस्तान की तारीफ़ करते पाए गये ये संदिग्ध श्रद्धालु:

इसके अलावा गुरदासपुर के ही ददवान के रहने वाले सुखदीप सिंह पर भी आईबी की नजर है। यह भी 25 जनवरी को करतारपुर साहिब गया था। जानकारी के मुताबिक, सुखदीप बेरोजगार है और गुरदासपुर कॉलेज में एमएससी का छात्र है। उसने भी पाकिस्तानी एजेंसियों की तारीफ़ की थी।

वहीं अन्य दोनों लोगों में कलानौर के प्रभजोत सिंह और भिखरिवाल में रहने वाला एक शख्स है। ये दोनों भी 23 जनवरी को करतारपुर साहिब गये थे। उनका बर्ताव भी संदिग्ध माना जा रहा है। आशंका जताई जा रही है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई करतारपुर साहिब जाने वाले श्रद्धालुओं को कट्टर बनाने की कोशिश कर सकती है क्योंकि श्रद्धालु 5 से 6 घंटे पाकिस्तान में बिताते हैं।

ये भी पढ़ें: शाहरुख के पिता माफिया! दिल्ली पुलिस को चकमा दे कर, ऐसे फरार हुआ पूरा परिवार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।