कश्मीर दहलाने की साजिश: सेना ने फिर हराया दुश्मनों को, नाकाम हुए सभी आतंकी

भारतीय सुरक्षाबलों ने देश की रक्षा करते हुए एक बार फिर आतंकियों की घिनौनी नापाक हरकतों को नाकाम कर दिया है। कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में पुल के नीचे आतंकियों ने विस्फोटक सामग्री बिछा रखी थी।

Kashmir attack

फोटो-सोशल मीडिया

जम्मू। भारतीय सुरक्षाबलों ने देश की रक्षा करते हुए एक बार फिर आतंकियों की घिनौनी नापाक हरकतों को नाकाम कर दिया है। कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में पुल के नीचे आतंकियों ने विस्फोटक सामग्री बिछा रखी थी। ऐसे में आतंकी साजिशों का संदेह होते ही सीआरपीएफ(CRPF) और सेना की रोड ओपनिंग पार्टी ने जांच की। साथ ही सामग्री का पता लगने के बाद बम निरोधक दस्ते को फौरन जानकारी दी। घटनास्थल पर पहुंची टीम ने स्थल से मिले विस्फोटक सामग्री को निष्क्रिय कर दिया।

ये भी पढ़ें… सीमा विवाद: अरुणाचल तक पहुंची चीन की सेना, 5 भारतीय युवकों को किया अगवा

एक स्थान पर आईईडी प्लांट

अरामपोरा में सोपोर-कुपवाड़ा पुल के नीचे विस्फोटक सामग्री मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने तत्काल प्रभाव से एक्शन लिया। जिसके चलते बम निरोधक दस्ते की टीम को बुलाकर विस्फोटक को निष्क्रिय किया गया। इस बारे में एसएसपी कुपवाड़ा ने बताया कि सोपोर-कुपवाड़ा रोड मार्ग पर एक स्थान पर आईईडी प्लांट की गई थी। जिसे बम निरोधक दस्ते की मदद से निष्क्रिय कर दिया गया है।

Indian soldiers
फोटो-सोशल मीडिया

इससे पहले से ही भारतीय सेना जम्मू कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चला रही थी। कुपवाड़ा जिले के घने जंगल में कुछ आतंकियों के घुसपैठ कर छिपे होने की जानकारी मिली थी। सेना ने इस सूचना के बाद कुपवाड़ा के जंगल में सर्च ऑपरेशन शुरू किया था।

ये भी पढ़ें…फूट-फूटकर रोई रिया: NCB के सवालों से हुआ ऐसा हाल, इस बड़े शख्स का लिया नाम

अमेरिकी राइफल बरामद

जिसके चलते सेना ने शनिवार की शाम से सर्च ऑपरेशन के दौरान एक एम-4 राइफल बरामद की थी। यह राइफल अमेरिका निर्मित थी। सेना ने राइफल के साथ ही कुछ और हथियार भी बरामद किए थे। साथ ही सेना का कहना है कि जब तक घुसपैठ करने वाले आतंकियों को पकड़ा या मार गिराया नहीं जाता, कुपवाड़ा के जंगल में चलाया जा रहा यह सर्च ऑपरेशन जारी रहेगा।

जानकारी देते हुए सेना की 19 डिवीजन जीओसी के मेजर जनरल वीरेंद्र वत्स ने कहा है कि सर्दियां शुरू होने से पहले पाकिस्तान की तरफ से आतंकी घुसपैठ की कोशिशें भी बढ़ सकती हैं। इसे लेकर भी सेना सतर्क है। पाकिस्तान की तरफ से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर किए जा रहे संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर उन्होंने कहा कि हर कार्रवाई का सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है।

ये भी पढ़ें…वैक्सीन इस हफ्ते: मिली सबसे बड़ी ख़ुशी, कोरोना का होकर रहेगा अंत

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App