हरसिमरत का राहुल पर निशाना, बोलीं- इंदिरा भी कहती थीं पंजाबियों को खालिस्तानी

पंजाबियों को खालिस्तानी कहने पर घड़ियाली आंसू बहाने के पहले राहुल गांधी आपको ये बताना चाहिए कि क्यों आपकी दादी पंजाबियों के लिए खालिस्तानी शब्द का इस्तेमाल करती थीं।

Published by Ashiki Patel Published: January 15, 2021 | 8:44 pm
harsimarat kaur

File Photo

नई दिल्ली: तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध जारी है। आज इस आंदोलन में कांग्रेस भी कूद पड़ी। प्रदर्शन कर रहे किसानों समर्थन में कांग्रेस ने शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में राजभवन का घेराव किया। इस प्रदर्शन की अगुवाई कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने की। जैसा कि शुरुआत से ही राहुल गांधी किसानों के समर्थन में मोदी सरकार पर हमलावर रहे हैं।

हरसिमरत कौर ने राहुल पर दागे तीखे सवाल

इस बीच किसानों के समर्थन में उतरे राहुल गांधी पर शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने बड़ा हमला बोला है। इतना ही नहीं हरसिमरत कौर ने राहुल गांधी से कुछ सवाल भी किए हैं और कहा है कि पहले राहुल गांधी इन सवालों का जवाब दे दें, फिर किसानों की बात करें।

ये भी पढ़ें: Newstrack की टाॅप 5 खबरें, सेना दिवस से लेकर सरकार-किसानों की वार्ता तक

खालिस्तानी कहने पर घड़ियाली आंसू न बहाएं राहुल

आपको बता दें कि आज हरसिमरत कौर ने ट्वीट करते हुए राहुल गांधी से कई सवाल पूछे। उन्होंने लिखा कि प्रेस कॉन्फ्रेंस और पंजाबियों को खालिस्तानी कहने पर घड़ियाली आंसू बहाने के पहले राहुल गांधी आपको ये बताना चाहिए कि क्यों आपकी दादी पंजाबियों के लिए खालिस्तानी शब्द का इस्तेमाल करती थीं। क्यों आपने उन्हें ड्रग्स एडिक्ट नाम दिया। हरसिमरत कौर ने लिखा कि एक बार जब आप इन सवालों के जवाब दे दें, फिर फिर पंजाब के किसानों की बात करें।

हरसिमरत कौर बादल का राहुल पर हमला यहीं नहीं रुका। उन्होंने इसके बाद एक और ट्वीट किया। हरसिमरत ने लिखा कि राहुल गांधी तब कहां थे जब किसानों ने पंजाब में धरना दिया था। संसद से जब बिल पास हो रहा था, तब कहां थे वो। आगे कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 40 सांसद राज्यसभा की कार्यवाही से गायब थे। पंजाब के उनके मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह केंद्र सरकार के साथ हैं।

हरसिमरत का राहुल पर निशाना, बोलीं- इंदिरा भी कहती थीं पंजाबियों को खालिस्तानी

ये भी पढ़ें: वैक्सीन लगवाने से पहले जान लें साइड इफेक्ट्स, मंत्रालय ने दी ये जानकारी

दरअसल, राहुल गांधी ने किसान आंदोलन में खालिस्तानी समर्थकों का हाथ होने के आरोप पर मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया था। कांग्रेस नेता ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि बीजेपी और नरेंद्र मोदी का एक ही लक्ष्य है और वो किसान-मजदूर समझ गया है। उनका लक्ष्य अपने अमीर दोस्तों को फायदा पहुंचाना है, जो भी नरेंद्र मोदी के खिलाफ खड़े होते हैं वो उनके बारे में कुछ ना कुछ गलत बोलते रहते हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App