LAC विवाद: दोनों देश शांतिपूर्वक सुलझाएंगे विवाद, बनी सहमति

पिछले एक महीने से पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) के पास भारत-चीन के बीच बना विवाद अब सुलझता नजर आ रहा है। भारत और चीन के सैन्य कमांडरों के बीच शनिवार को हुई बैठक सकारात्मक रही।

नई दिल्ली: पिछले एक महीने से पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) के पास भारत-चीन के बीच बना विवाद अब सुलझता नजर आ रहा है। भारत और चीन के सैन्य कमांडरों के बीच शनिवार को हुई बैठक सकारात्मक रही है। अब विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि दोनों देश विवाद को शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाने के लिए सहमत हो गए हैं। बयान में यह भी कहा गया कि दोनों देशों के बीच सैन्य और राजनयिक स्तरीय बातचीत जारी रहेगी।

यह भी पढ़ें: चीन की घेरेबंदी तेज: आठ देशों के सांसदों ने बनाया गठबंधन, लगाया ये बड़ा आरोप

शांतिपूर्ण तरीके से सुलझाएंगे विवाद

विदेश मंत्रालय द्वारा जारी किए गए बयान में कहा गया है कि दोनों देशों द्विपक्षीय समझौतों के तहत सीमा पर शांतिपूर्ण तरीके से समाधान के लिए तैयार हैं। यह द्विपक्षीय संबंधों के विकाल के लिए भी जरूरी है। बयान में यह भी कहा गया है कि भारत और चीन समस्या को हल करने और सीमा क्षेत्रों में शांति सुनिश्चित करने के लिए आगे भी बातचीत जारी रखेंगे।

रिश्तों को मजबूत करने के लिए आगे भी जारी रहेगी बातचीत

दोनों देश इस साल अपने कूटनीतिक संबंधों की 70वीं वर्षगांठ मना रहे हैं। दोनों देशों ने इस बात पर सहमति जताई है कि रिश्तों को मजबूत करने के लिए आगे भी बातचीत जारी रहेगी। दोनों देशों का मानना है कि शुरुआती प्रस्ताव भारत और चीन के संबंधों को बेहतर बनाने में सहयोग करेगा।

यह भी पढ़ें: अमित शाह की डिजिटल रैली: आरजेडी ने किया गरीब अधिकार दिवस का ऐलान

शनिवार को कंमाडर लेवल की हुई वार्ता

बता दें कि शनिवार को दोनों देशों के सैन्य कमांडरों के बीच बैठक हुई। इस दौरान कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई। भारत की ओर से लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और चीन की तरफ से तरफ से साउथ शिनजियांग मिलिट्री कमांड के कमांडर मेजर जनरल लियो लिन के बीच बॉर्डर विवाद पर बातचीत हुई। जो कि लगभग पांच घंटे तक चली।

LAC विवाद पर भारत-चीन सैन्य कमांडरों की बैठक

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चीनी सेना ने पैंगोंग सो और गलवान घाटी पर करीब 2500 सैनिकों की तैनाती की है। सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों से पता चलता है कि चीन ने LAC पर अपने क्षेत्र में सैन्य कई टेंट भी बनाए थे। वहीं भारत की तरफ से भी अपने तरफ सैनिकों की तैनाती की गई थी। हालांकि बाद में ये भी रिपोर्ट आई कि चीन के सैनिक अब LAC से पीछे चले गए हैं।

यह भी पढ़ें: मार्क जकरबर्ग ने किया कपिल मिश्रा का जिक्र, ऐसे बना दिया दुनियाभर में मशहूर

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।