लालू को तगड़ा झटका: करना होगा अभी और इंतजार, दिसंबर में होगी सुनवाई

लालू प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया कि, जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान राजद अध्यक्ष के वायरल ऑडियो टेप और पीआईएल को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई।

Published by Roshni Khan Published: November 27, 2020 | 2:13 pm
Modified: November 27, 2020 | 2:16 pm
jharkhand-lalu-prashad-yadav

लालू को तगड़ा झटका: करना होगा अभी और इंतजार, दिसंबर में होगी सुनवाई (Photo by social media)

रांची: राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को जमानत के लिए अभी और इंतजार करना होगा। दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में आज झारखंड हाई कोर्ट में सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान सीबीआई ने हाफ सेंटेंस पूरा करने को लेकर सवाल उठाए। सीबीआई ने कोर्ट से आग्रह किया कि लोअर कोर्ट से इसे वेरीफाई कराया जाए। सीबीआई के आग्रह को स्वीकारते हुए हाईकोर्ट ने हाफ सेंटेंस पूरा करने को लोअर कोर्ट से वेरीफाई करने का आदेश दिया। लिहाज़ा, जमानत पर अगली सुनवाई 11 दिसंबर को फिर होगी।

ये भी पढ़ें:पीएम किसान योजना: इस तारीख से खाते में आएगी 7वीं किस्त, ऐसे चेक करें नाम

लालू प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया

लालू प्रसाद के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने बताया कि, जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान राजद अध्यक्ष के वायरल ऑडियो टेप और पीआईएल को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई। लालू के अधिवक्ता की मानें तो अगर दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में बेल मिल जाता तो लालू खुली हवा में सांस ले पाते। हालांकि अब 11 दिसंबर तक इंतजार करना होगा।

jharkhand-lalu-prashad-yadav
jharkhand-lalu-prashad-yadav (Photo by social media)

इस बीच लालू प्रसाद के खिलाफ रांची के बरियातू थाना में सन्हा भी दर्ज कराया गया है जिसमें कथित तौर पर केली बंगला से फोन पर बातचीत और विधायक के खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया गया है। बीजेपी के नेता अनुरंजन अशोक ने इस मामले को लेकर सनहा दर्ज कराया है। इससे पहले इन्होंने 26 नवंबर को लालू के खिलाफ झारखंड हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है।

ये भी पढ़ें:नल से आग निकली: तेज लपटों से भाग खड़े हुए लोग, कांप उठी इस देश की सरकार

jharkhand-HC
jharkhand-HC (Photo by social media)

राजद के प्रदेश अध्यक्ष अभय कुमार सिंह ने कहा कि, आरजेडी कोर्ट का सम्मान करती है। हमारे नेता ने सजा की आधी अवधि पूरी कर ली है। लिहाजा अगली तारीख में लालू को जमानत मिलने की पूरी संभावना है। उन्होंने कहा कि जानबूझकर ऑडियो टेप का मामला उछाला गया है ताकि जमानत को रोका जा सके। अभय कुमार सिंह ने कहा कि इसमें कोई भी सच्चाई नहीं है। इस बीच लालू प्रसाद को रिम्स डायरेक्टर के केली बंगला से शिफ्ट करते हुए उन्हें दोबारा पेइग वार्ड में भर्ती कराया गया है।

रिपोर्ट- शाहनवाज

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App