लालू पर बुरी खबर: अस्पताल से सामने आई ये रिपोर्ट, पूरा परिवार हुआ परेशान

लालू यादव की तबियत ज्यादा ख़राब होने पर जब रिम्स के डॉक्टरों की टीम ने लालू यादव को एम्स भेजने का फैसले लिया, तो अस्पताल में रिश्तेदारों और पार्टी नेताओं की भारी भीड़ लग गई थी। इससे पहले रांची में जेल प्रशासन ने एक महीने के लिए लालू को एम्स भेजने की अनुमति दी थी।

Published by SK Gautam Published: January 24, 2021 | 11:40 am
lallu yadav

लालू पर बुरी खबर: अस्पताल से सामने आई ये रिपोर्ट, पूरा परिवार हुआ परेशान-(courtesy-social media)

नई दिल्ली: चारा घोटाले मामले में जेल में सजा काट रहे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को रांची के रिम्स अस्पताल से निकालकर दिल्ली एम्स के CNC(Cardiothoracic and Neuro sciences centre) के CCU (कृटिकल केयर यूनिट में एडमिट किया गया है। उनके बेटे तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू यादव को गुरुवार की रात से ही सांस लेने में दिक्कत हो रही है। उन्हें फेफड़ो में संक्रमण, निमोनिया, ब्लड शुगर और किडनी से जुड़ी परेशानियां हैं। यही वजह है कि अब उनका इलाज दिल्ली के एम्स में हो रहा है।

किडनी 25 फीसदी ही काम कर रही-डॉक्टर

डाक्टरों का कहना है कि लालू यादव की उम्र ज्यादा होने की वजह से कॉम्प्लिकेशन ज्यादा है। इसलिए कार्डियोलोजिस्ट, lungs, kidney specialist की निगरानी में इलाज हो रहा है। बता दें कि कल ही रिम्स अस्पताल के मेडिकल बोर्ड ने उन्हें एम्स में भर्ती कराने की सलाह दी थी। लालू को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, उनके फेफड़े में पानी भरने की भी बात सामने आई है। रिम्स के डॉक्टरों ने लालू यादव को निमोनिया होने की बात कही है। किडनी 25 फीसदी ही काम कर रही है।

जेल प्रशासन ने एक महीने के लिए एम्स भेजने की अनुमति दी

बीते दिन लालू यादव की तबियत ज्यादा ख़राब होने पर जब रिम्स के डॉक्टरों की टीम ने लालू यादव को एम्स भेजने का फैसले लिया, तो अस्पताल में रिश्तेदारों और पार्टी नेताओं की भारी भीड़ लग गई थी। इससे पहले रांची में जेल प्रशासन ने एक महीने के लिए लालू को एम्स भेजने की अनुमति दी थी। जेल आईजी बिरेन्द्र भूषण ने रिम्स निदेशक को चिट्ठी लिखकर इसकी इजाजत दी थी। रिम्स प्रबंधन ने जेल प्रशासन से लालू की खराब तबीयत को देखते हुए उन्हें अविलंब दिल्ली ले जाने का आग्रह किया था।

lallu yadav health

ये भी देखें: सीमा पर तनाव: ढाई महीने बाद भारत-चीन के बीच हो रही बैठक, इन मुद्दों पर चर्चा

 तीन साल पहले एम्स में 34 दिनों तक इलाज चला था

तीन साल पहले लालू यादव को दिल्ली एम्स लाया गया था। 28 मार्च 2018 को उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। 30 अप्रैल 2018 को उन्हें एम्स से डिस्चार्ज कर रांची भेजा गया था। पिछली बार लालू यादव का एम्स में 34 दिनों तक इलाज चला था। उस वक़्त एम्स में DR Rakesh Yadav कार्डियोलोजिस्ट और DR ARVIND मेडिसिन विभाग की निगरानी में लालू यादव का इलाज हुआ था। अभी भी DR Rakesh Yadav की देखरेख में इलाज हो रहा है।

ये भी देखें:  MP: नेताजी का नाम भूल गए BJP सांसद, सुभाषचंद्र बोस को बताया चंद्रशेखर आजाद

दोस्तों देश दुनिया की और  को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App