×

बिहार सरकार ने जारी की गाइडलाइंस, जानिए क्या-क्या मिलेगी छूट

बिहार सरकार ने लॉकडाउन 4.0 को लेकर सोमवार को गाइडलाइंस जारी कर दिया है। नई गाइडलाइंस के अनुसार, बिहार में नई छूट सिर्फ यह दी गई है कि जो इलाके कंटेनमेंट जोन और रेड जोन से बाहर है, वहां पर कपड़े की दुकानें खोली जा सकती हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 18 May 2020 4:35 PM GMT

बिहार सरकार ने जारी की गाइडलाइंस, जानिए क्या-क्या मिलेगी छूट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

पटना: बिहार सरकार ने लॉकडाउन 4.0 को लेकर सोमवार को गाइडलाइंस जारी कर दिया है। नई गाइडलाइंस के अनुसार, बिहार में नई छूट सिर्फ यह दी गई है कि जो इलाके कंटेनमेंट जोन और रेड जोन से बाहर है, वहां पर कपड़े की दुकानें खोली जा सकती हैं।

गाइडलाइंस में कहा गया है कि कपड़े की दुकानों को खोलने को लेकर जिलाधिकारी फैसला लेंगे। जिलाधिकारी तय करेंगे कि दुकानें किन-किन दिनों में खुलेंगे और कितने समय के लिए खुलेंगे। बिहार सरकार ने सभी प्रखंड मुख्यालयों को रेड जोन घोषित कर दिया है।

यह भी पढ़ें...लॉकडाउन 4: सीएम खट्टर ने किया एलान, मंगलवार से हरियाणा में शुरू होगीं ये सेवाएं

बिहार की नीतीश सरकार का मानना है कि बिहार में हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर रोजाना आ रहे हैं और प्रखंडों में स्थित क्वारनटीन सेंटर में रह रहे हैं। इससे उन इलाकों में संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। प्रदेश के रेड जोन इलाके में राज्य सरकार ने कोई भी नई छूट नहीं दी है।

यह भी पढ़ें...CM योगी का निर्देश, कोई भी प्रवासी मजदूर भूखा न सोने पाए

इसके साथ ही सरकार ने दूसरे राज्यों से बिहार लौट रहे लोगों के लिए कैब सर्विस की अनुमति दे दी है। हालांकि, यह सेवा केवल मरीजों और ट्रेन से आने वाले यात्रियों के लिए होगी। बता दें कि बिहारा में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 1300 के पार पहुंच चुकी है। राज्य में सोमवार को 58 नए मामले में सामने आए थे।

इससे पहले सीएम नीतीश कुमार ने कहा था कि जो भी प्रवासी बिहार आना चाहते हैं, उन्हें लाया जाएगा। 710 श्रमिक गाड़ियों की योजना पहले ही बन चुकी है, जरूरत पड़ने पर इसे बढ़ाया जाएगा। इसलिए चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें...यूपी में बढ़ी कोरोना विजेताओं की संख्या, सबसे ज्यादा प्रवासी मजदूरों की भी वापसी यहां

''बिहार आने के इच्छुक प्रवासी मजदूरों को लाया जाएगा बिहार''

बिहार के सीएम ने कहा था कि बिहार के बाहर फंसे जो भी प्रवासी मजदूर बिहार आने के इच्छुक हैं, उन सभी को बिहार लाया जाएगा। वे परेशान न हों, धैर्य रखें, सुरक्षित रहें। सरकार पूरी क्षमता से सभी इच्छुक प्रवासी मजदूरों को जल्द से जल्द बिहार लाने के लिए आवश्यक कदम उठा रही है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story