मामला संसदीय है या असंसदीय! बे-कायदे आजम की बद्जुबानी पे फैसला थोड़ी देर में

आज़म खान के विवादास्‍पद टिप्‍पणी के मामले में उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए लोकसभा में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास हो गया है। आजम के खिलाफ एक्शन लेने के लिए स्पीकर को अधिकार दे दिया गया है।

आज़म खान के खिलाफ कार्रवाई के लिए सदन में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास

नई दिल्ली: आज़म खान के विवादास्‍पद टिप्‍पणी के मामले में उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए लोकसभा में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास हो गया है। आजम के खिलाफ एक्शन लेने के लिए स्पीकर को अधिकार दे दिया गया है। बता दें कि गुरुवार को लोकसभा में तीन तलाक बिल पर चर्चा के दौरान रामपुर से एसपी सांसद आज़म खान ने सभापति की कुर्सी पर बैठी रमा देवी पर निजी और विवादास्‍पद टिप्‍पणी की थी। इसे लेकर संसद में काफी हंगामा हुआ था। अब इस मामले में आजम खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। संसद में तीन तलाक पर चर्चा के दौरान स्पीकर पर की गई टिप्पणी ने भी उनके सामने मुश्किल खड़ी की। हालांकि इसे सदन की कार्यवाही से बाहर कर दिया है।

यह भी पढ़ें…..विवादित आजम ! जिनकी साख गिर रही और मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं

आजम खान मामले में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि वो सभी दलों के नेताओं के साथ बैठक कर इस बारे में कोई निर्णय करेंगे।

आज लोकसभा में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि ऐसे बयान के लिए आज़म खान को हर हाल में माफी मांगनी होगी। स्मृति ईरानी ने आजम खान को इस विवादित टिप्पणी के मामले में घेर लिया। उन्होंने कहा, ‘ये ऐसी जगह नहीं है जहां किसी औरत की आंखों में झांका जाए’। ईरानी के मुताबिक आज़म खान इस्तीफे का ड्रामा कर रहे थे।

यह भी पढ़ें…..महिलाओं का आज़म ने हमेशा किया अपमान, तो रमा देवी ने कर दी बड़ी मांग

वहीं बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की प्रमुख मायावती ने भी आजम खान की टिप्पणी को अशोभनीय बताते हुए सभी महिलाओं से माफी मांगने को कहा है।

यह भी पढ़ें…..साध्वी प्रज्ञा को बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने किया तलब

अपने संसदीय कार्य के अनुभव का जिक्र करते हुए स्मृति ईरानी ने आगे कहा, ‘मेरे 7 साल के संसदीय कार्यकाल में किसी पुरुष ने इस तरह की हिमाकत नहीं की, ये सदन महिला से जुड़ा नहीं है बल्कि पूरे समाज से जुड़ा है। महिला किसी भी पक्ष की हो, मामला इस सदन के विशेषाधिकार का है और किसी को महिला के अपमान का हक नहीं है।’

यह भी पढ़ें…..यूपी: घाघरा लाल निशान के करीब, सरयू में छोड़ा गया 33 लाख क्यूसेक पानी

इससे पहले आजम की टिप्पणी से आहत बीजेपी सांसद रमा देवी ने आजम खान द्वारा उनके ऊपर की गई विवादास्‍पद टिप्‍पणी को लेकर नाराजगी जताई थी। उन्होंने कहा, ‘आज़म खान ने कभी औरतों की इज्‍जत नहीं की। बीजेपी सांसद रमा देवी ने आगे कहा कि,हम सभी जानते हैं कि उन्‍होंने जया प्रदा को लेकर क्‍या कहा था। इन्‍हें लोकसभा में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। मैं स्‍पीकर से आज़म खान को बर्खास्‍त करने का अनुरोध करूंगी। आज़म को अपने बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए।’

यह भी पढ़ें…..विधानसभा में सपा व कांग्रेस का हंगामा, एक जाति के लोगों की हत्या का लगाया आरोप

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और सांसद अखिलेश यादव ने सदन में आजम खान का बचाव करते हुए कहा था कि उनकी भाषा और भावना कोई गलत नहीं थी। अखिलेश के ये बोलते ही सदन में सत्ता पक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। इस पर अखिलेश यादव ने सत्ता पक्ष के नेताओं को बदतमीज तक कह दिया। इस बात से नाराज लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने अखिलेश यादव को सदन में माफी मांगने को कहा।