पासपोर्ट पर कमल का निशान, विदेश मंत्रालय ने बताई इसकी ये बड़ी वजह

भारतीय पासपोर्ट पर कमल के निशान को लेकर बवाल मचा हुआ है। इस पर गुरुवार को विदेश मंत्रालय ने सफाई दी। मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा मानकों को मजबूत करने के लिए कमल का निशान लाया गया है। मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि और बारी-बारी से देश के अन्य प्रतीक चिन्हों का भी इस्तेमाल किया जाएगा।

नई दिल्ली: भारतीय पासपोर्ट पर कमल के निशान को लेकर बवाल मचा हुआ है। इस पर गुरुवार को विदेश मंत्रालय ने सफाई दी। मंत्रालय ने कहा कि सुरक्षा मानकों को मजबूत करने के लिए कमल का निशान लाया गया है। मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि और बारी-बारी से देश के अन्य प्रतीक चिन्हों का भी इस्तेमाल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें…‘CAB’ के खिलाफ SC में याचिका दाखिल,ये दिग्गज वकील लड़ेंगे केस

कमल प्रिंट वाले पासपोर्ट बांटे जाने का मामला केरल के कोझिको़ड से कांग्रेस सांसद एमके राघवन ने शून्यकाल के दौरान लोकसभा में उठाया था। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर एक अखबार ने प्रकाश डाला है। राघवन ने आरोप लगाया कि यह सरकारी संस्थानों का भगवाकरण करने की कोशिश है, क्योंकि कमल बीजेपी का चुनाव चिन्ह है।

यह भी पढ़ें…नागरिकता बिल पर भड़के मुस्लिम देश, बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने रद्द किया भारत दौरा

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने प्रेस कांफ्रेस के दौरान इस मामले पर पूछे गए सवाल पर कहा कि यह प्रतीक हमारा राष्ट्रीय फूल है और फर्जी पासपोर्ट को पहचानने के लिए सिक्यॉरिटी फीचर मजबूत करने का एक कदम है।

यह भी पढ़ें…CAB पर पूर्वोत्तर में बढ़ा तनाव, इंटरनेट बंद, फ्लाइटें रद्द, जानें दिनभर के बड़े अपडेट्स

उन्होंने कहा कि सिक्योरिटी फीचर अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) के दिशानिर्देश पर पेश किया गया है। रवीश कुमार ने कहा कि कमल के अलावा बारी-बारी से देश के अन्य चिन्हों का इस्तेमाल किया जाएगा। अभी यह कमल है और अगले महीने कुछ और होगा। ये प्रतीक चिन्ह भारत से जुड़े हैं जैसे कि राष्ट्रीय फूल और राष्ट्रीय पशु।’