×

इस खतरनाक बीमारी ने दी दस्तक, कौओं की हो रही मौत, मध्य प्रदेश में मचा हड़कंप

पशु चिकित्सा विभाग ने इनमें से कुछ कौओं के शव को नमूना लिया था और भोपाल की एक प्रयोगशाला में इनकी जांच हुई, तो इनमें बर्ड फ्लू फैलाने वाले वायरस एच5एन8 पाया गया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 2 Jan 2021 4:16 AM GMT

इस खतरनाक बीमारी ने दी दस्तक, कौओं की हो रही मौत, मध्य प्रदेश में मचा हड़कंप
X
उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के डाला इलाके में दस कौव्वोंं की मौत के बाद सनसनी फैल गई। इनके सैंपल पोस्ट मार्टम के बाद मध्यप्रदेश भेजें गए हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

भोपाल: कोरोना संकट के बीद मध्य प्रदेश में बर्ड फ्लू ने दस्तक दे दी है। इसके बाद राज्य में हड़कंप मच गया है। प्रदेश के इंदौर में हाल ही में कौए मृत पाए गए थे। अब 50 कौओं में शुक्रवार बर्ड फ्लू के वायरस की पुष्टि हुई। इसके बाद प्रशासन अलर्ट हो गया है और सर्दी, खांसी और बुखार के लक्षणों वाले मरीजों का पता करने के लिए अभियान शुरू किया गया है।

इंदौर की प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी पूर्णिमा गडरिया ने कहा कि रेसीडेंसी क्षेत्र के स्कूल डेली कॉलेज के परिसर में करीब 50 कौए मृत मिले थे। पशु चिकित्सा विभाग ने इनमें से कुछ कौओं के शव को नमूना लिया था और भोपाल की एक प्रयोगशाला में इनकी जांच हुई, तो इनमें बर्ड फ्लू फैलाने वाले वायरस एच5एन8 पाया गया है।

उन्होंने कहा कि इसके बाद रेसीडेंसी क्षेत्र के पांच किलोमीटर के क्षेत्र में सर्दी, खांसी और बुखार के लक्षणों वाले मरीजों का पता लगाने के लिए सर्वे शुरू किया गया है। इन मरीजों के नमूने लिए जाएंगे और बर्ड फ्लू की जांच कराया जाएगा।

ये भी पढ़ें...कश्मीर में आतंकी हमला: अनुच्छेद 370 का पहला लाभार्थी मारा गया, दी बड़ी चेतावनी

पशु चिकित्सा विभाग के उपसंचालक ने बताया कि डेली कॉलेज परिसर में शुक्रवार को भी करीब 20 कौए मरे हुए पाए गए हैं। अब तक जितने भी मरे कौए मिले हैं औ सभी को सुरक्षित वैज्ञानिक विधि से दफनाया गया है।

Crows

ये भी पढ़ें...तो किसान बंद कराएंगे माॅल और पेट्रोल पंप, सरकार को दी ये बड़ी चेतावनी

शर्मा ने बताया कि रेसीडेंसी क्षेत्र में हजारों कौओं का झुंड रहता है। इस क्षेत्र में मरे कौओं को खोजने का अभियान चलाया जा रहा है जो कई दिनों तक जारी जारी रहेगा। इंदौर का रेसीडेंसी क्षेत्र शहर के पॉश इलाकों में शामिल हैं। इस इलाके में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ ही न्यायाधीशों के भी बंगले हैं।

ये भी पढ़ें...केजरीवाल सरकार ने नए साल का दिया तोहफा, दिल्ली के लोगों को मिली ये बड़ी राहत

राजस्थान में मरे सैकड़ों पक्षी

बता दें कि राजस्थान में सैकड़ों पक्षियों की मौत हो गई। नागौर जिले के मकराना उपखंड के कालवा गांव में सैंकड़ों की संख्या में मृत पक्षी मिल चुके हैं और यह सिलसिला लगातार जारी है। मरने वाले पक्षियों में सबसे ज्यादा संख्या राष्ट्रीय पक्षी मोर की है, जिनकी संख्या 100 के करीब पहुंच चुकी है जबकि अन्य पक्षी भी लगातार काल का ग्रास बन रहे हैं। कौवे , कबूतर और फाख्ता सहित कई पक्षियों के शव लगातार मिलने जारी हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story