आज फिर आया भूकंप: थरथराई धरती, झटकों से सहम गए लोग

रविवार को मिजोरम में भूकंप के झटकों को महसूस किया गया। जानकारी के मुताबिक, आज सुबह 4.6 तीव्रता का भूकंप आया। इसका केंद्र चम्फाई के करीब था।

Magnitude 4.6 earthquake hits Mizoram Champai

मिजोरम में 4.6 तीव्रता के भूकंप के झटके (File Photo)

मिजोरम: भारत में इस साल भूकंप के झटकों को लगातार महसूस किया जा रहा है। देश के अलग अलग हिस्सों में लगभग रोजाना भूकंप आ रहा है। ऐसे में एक्सपर्ट्स के लिए भी चिंता बनी हुई है। इसी कड़ी में रविवार को मिजोरम में भूकंप के झटकों को महसूस किया गया। जानकारी के मुताबिक, आज सुबह 4.6 तीव्रता का भूकंप आया, हालंकि किसी जान या माल के नुकसान की कोई जानकारी अभी तक नहीं मिली है।

मिजोरम में 4.6 तीव्रता के भूकंप के झटके

दरअसल, देश के उत्तर पूर्वी राज्य मिजोरम में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, भूकंप के झटके सुबह 7.29 बजे आये। इसका केंद्र चम्फाई के करीब बताया जा रहा है। भूकंप की तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 4.6 दर्ज की गयी। अभी तक किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है।

earthquake

लद्दाख के कारगिल में 3.6 तीव्रता का भूकंप

बता दें कि इसके पहले बीते दिन लद्दाख के कारगिल में भूकंप के झटके महसूस किये गए हैं। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NSS) के मुताबिक, झटकों की तीव्रता 3.6 का आया था। जानकारी देते हुए एजेंसी ने कहा कि भूकंप का केंद्र भारत के लद्दाख के कारगिल से 413 किलोमीटर उत्तर-उत्तर-पश्चिम था।

ये भी पढ़ेंः आज होगी बारिश: यहां गिरेगा पानी, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

एक मार्च से आठ सितंबर तक कुल 413 बार आया भूकंप

बता दें, मानसून सत्र के दौरान मंत्रालय ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्यसभा को बताया कि देश में और आसपास भूकंप का पता लगाने और ऐसी गतिविधियों की खोज के लिए नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी (एनसीएस), एनएसएन का प्रबंधन करता है।

इसके साथ ही संसद में मंत्रालय ने बताया ‘एनएसएन ने एक मार्च 2020 से आठ सितंबर 2020 तक देश में कुल 413 भूकंप दर्ज किए हैं।’ मंत्रालय के मुताबिक, 413 में से 135 भूकंप की तीव्रता 3.0 या इससे कम थी ओर इतनी कम तीव्रता के भूकंप आम तौर पर महसूस नहीं होते।

11 भूकंप की तीव्रता 5.0 से 5.7

जानकारी देते हुए मंत्रालय ने बताया कि कुल 114 भूकंप की तीव्रता 4.0 और 4.9 के बीच थी। इस श्रेणी का भूकंप बहुत बड़े क्षेत्र में महसूस किया जाता है और इससे थोड़ा-बहुत नुकसान होता है। केवल 11 भूकंप की तीव्रता 5.0 से 5.7 थी।

Earthquakeफोटो-सोशल मीडिया
ये भी पढ़ेंः आया भयानक संकट: सरकार ने जारी किये आदेश, इन जिलों में लगा प्रतिबंध

भूकंप 3.5 से 4 तीव्रता के 57 झटके, 4 से 4.5 तक के 45 भूकंप, 4.5 से लेकर 5.0 तक के 51 झटके महसूस किए गए। 5.0 से लेकर 5.5 तीव्रता के कुल 9 भूकंप आए। फिर 5.5 से लेकर 6.0 तीव्रता के 2 भूकंप आए। और सबसे तगड़ा भूकंप का झटका अंडमान-निकोबार द्वीप पर 17 जुलाई को महसूस किया गया। इसकी तीव्रता 6.1 थी।

इसके बाद रिक्टर पैमाने पर 5.0 से लेकर 5.9 तीव्रता के 11 झटके महसूस किए गए। इन तीव्र 11 झटकों को देश के कई राज्यों ने महसूस किया। लोग घरों और दफ्तरों से बाहर निकल आए। कुछ जगहों पर लाइट चली गई। वहीं कुछ कमजोर इमारतों और ढांचों को मामूली नुकसान पहुंचा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App