इमारत भरभराकर गिरी: मलबे से निकल रहीं लाशें, कई लोग अब भी फंसे, रेस्क्यू जारी

महाराष्ट्र के ठाणे में दर्दनाक हादसा हो गया। यहां रविवार की देर रात एक तीन मंजिला इमारत जमींदोज हो गयी। हादसे में इमारत के मलबे के नीचे कई लोग फंसे हैं।

MAHARASHTRA three storey building collapses in bhiwandi rescue underway

इमारत भरभराकर गिरी (photo Social media)

मुंबई: महाराष्ट्र के ठाणे में दर्दनाक हादसा हो गया। यहां रविवार की देर रात एक तीन मंजिला इमारत जमींदोज हो गयी। हादसे में इमारत के मलबे के नीचे कई लोग फंसे हैं। बताया जा रहा है कि अब तक इस 8 लोगों की मलबे में दबकर मौत हो गयी, वहीं आज सुबह तक करीब 35 से 40 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। एनडीआरएफ और पुलिस की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हैं और अब तक कम से कम 20 लोगों को सुरक्षित निकला जा चुका है।

भिवंडी में ढह गई 3 मंजिला ईमारत

मामला ठाणे जिले के भिवंडी शहर का है, यहां स्थित में पटेल कंपाउंड में इमारत ढह गयी। बताया जा रहा है कि 1984 में बने जिलानी अपार्टमेंट, मकान नंबर 69 नामक इमारत का आधा हिस्सा भरभरा कर गिर गया। हादसा रात करीब 3 बजे के आसपास हुआ। उस समय इमारत में 21 फ्लैट में लोग सो रहे थे।

एनडीआरएफ की टीम रेस्क्यू में जुटी

अचानक इमारत गिरने से कोहराम मच गया। मामले की जानकारी पुलिस को हुई, तो एनडीआरएफ की टीम के साथ मौके पर पहुँच कर बचाव कार्य में जुट गयी। स्थानीय नागरिक और मनपा की टीम मिल कर मलबे में दबे लोगों को निकालने का काम कर रहे हैं।

ये भी पढ़ेंः थाने में ब्लास्ट: दहल गई यूपी पुलिस, इलाके में मची अफरा-तफरी

8 लोगों की मौत, 25 से अधिक मलबे में फंसे

कहा जा रहा है कि अब तक इमारत के मलबे से 8 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। जबकि राहत कार्य के दौरान 5 जीवित लोगों को सुरक्षित रूप से बाहर निकाला गया है। करीब 25 से अधिक लोगों के अभी भी फंसे होने की आशंका व्यक्त की जा रही है।

ये भी पढ़ेंः लद्दाख की 6 पहाड़ियां: 20 दिनों में सब पर कब्जा, फहराया भारत का तिरंगा

डेंजर लिस्ट में थी इमारत

बताया जा रहा है कि ये इमारत डेंजर लिस्ट में थी। इसे खाली करने के लिए नोटिस भी जारी किया गया था। नोटिस जारी होने के बाद से कई लोगों ने ये जगह छोड़ दी थी लेकिन अभी भी कुक लोग यहां रह रहे थे। वहीं मुंबई में पिछले दिनों हुई भारी बारिश की वजह से इमारत कमजोर हो चुकी थी। इस इमारत में 21 परिवार रहते थे।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App