कांग्रेस की महत्वपूर्ण बैठक कल, राहुल समर्थक खेमा सक्रिय, गहलोत का नाम भी उछला

पार्टी में राहुल समर्थक खेमा एक बार फिर उन्हें अध्यक्ष पद की कमान सौंपने की वकालत कर रहा है। वैसे राहुल गांधी ने अभी तक अध्यक्ष बनने की बात पर हामी नहीं भरी है। ऐसे में गहलोत के सिर अध्यक्ष पद का ताज सजाने की कवायद भी चल रही है।

Published by SK Gautam Published: January 21, 2021 | 11:48 am
congress meeting-2

File Photo

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली। कांग्रेस में नए अध्यक्ष के चुनाव की तेज हो रही मांग के बीच कल पार्टी कार्यसमिति की महत्वपूर्ण बैठक बुलाई गई है। माना जा रहा है कि इस बैठक में पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया को लेकर महत्वपूर्ण चर्चा हो सकती है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने हाल में एक बार फिर नए स्थायी अध्यक्ष के जल्द चुनाव का मुद्दा उठाया है। ऐसे में इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

पार्टी में राहुल समर्थक खेमा उन्हें दोबारा अध्यक्ष बनने के लिए मनाने की कोशिश में जुटा हुआ है मगर अभी तक राहुल गांधी ने इस बाबत हामी नहीं भरी है। ऐसे में राजस्थान के मुख्यमंत्री और गांधी परिवार के भरोसेमंद अशोक गहलोत के सिर ताज सजाने की कवायद भी चल रही है।

अध्यक्ष के चुनाव पर होगी चर्चा

कांग्रेस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पार्टी कार्यसमिति की बैठक शुक्रवार को सुबह होगी। इस डिजिटल बैठक में हिस्सा लेने के लिए कार्यसमिति के सभी सदस्यों को सूचना भेज दी गई है। इस बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर एक बार फिर गहमागहमी तेज हो गई है। पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव के साथ ही बैठक में किसान आंदोलन और अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर भी चर्चा की जा सकती है। पिछले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद छोड़ दिया था और उसके बाद से ही सोनिया गांधी अंतरिम अध्यक्ष के रूप में पार्टी के कामकाज देख रही हैं।

congress meeting

खराब प्रदर्शन के बाद असंतुष्ट खेमा सक्रिय

बिहार विधानसभा चुनाव और कुछ राज्यों के उपचुनावों में कांग्रेस का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है और उसके बाद से पार्टी में फिर स्थायी अध्यक्ष की मांग तेज हो रही है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने हाल में एक बार फिर भाजपा की चुनौतियों का सामना करने के लिए नए स्थायी अध्यक्ष की मांग उठाई है।

ये भी देखें: भारत को बिडेन से बड़ी उम्मीदें

उनका कहना है कि टालमटोल की नीति से पार्टी को नुकसान उठाना पड़ रहा है और पार्टी सियासी रूप से लगातार कमजोर होती जा रही है। ऐसे में हर किसी की नजर पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया पर टिकी हुई है।

rahul gandhi

राहुल को मनाने में जुटे हैं समर्थक

पार्टी में राहुल समर्थक खेमा एक बार फिर उन्हें अध्यक्ष पद की कमान सौंपने की वकालत कर रहा है। वैसे राहुल गांधी ने अभी तक अध्यक्ष बनने की बात पर हामी नहीं भरी है। ऐसे में गहलोत के सिर अध्यक्ष पद का ताज सजाने की कवायद भी चल रही है। गहलोत को गांधी परिवार का करीबी माना जाता रहा है। राहुल समर्थक खेमा अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद से ही उन्हें दोबारा अध्यक्ष बनाने के लिए सक्रिय है। देखने वाली बात यह होगी कि राहुल गांधी इस बाबत आखिर क्या फैसला लेते हैं।

ये भी देखें: हलाल और झटका मीट विवाद: प्रस्ताव को मंजूरी, दिल्ली MCD ने सुनाया ये फैसला

congress meeting-3

गहलोत पर भी टिकी नजर

पार्टी में वरिष्ठ नेताओं का एक ग्रुप ऐसा भी है जो राहुल के तैयार न होने पर सोनिया को ही स्थायी तौर पर अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी सौंपने की वकालत कर रहा है। इस ग्रुप से जुड़े नेताओं का कहना है कि अगर स्वास्थ्य कारणों से सोनिया गांधी इसके लिए तैयार नहीं होती हैं तो विकल्प के तौर पर किसी वरिष्ठ नेता को इस पद की जिम्मेदारी सौंपी जानी चाहिए।

ऐसे में सबकी नजर गहलोत पर टिकी हुई है। गहलोत को नए और पुराने नेताओं के बीच बेहतर तालमेल बैठाने वाला माना जा रहा है। ऐसे में उनकी वकालत करने वालों की संख्या बढ़ रही है।

ये भी देखें: किसानों की ट्रैक्टर रैलीः रूट पर विवाद, इस समझौते से निकल सकता है हल

 दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App