मुख्तार अंसारी के बेटे के घर से मिला विदेशी हथियारों का जखीरा, पुलिस के उड़ गए होश

उत्तर प्रदेश की पुलिस ने बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी के दिल्ली के वसंत कुंज स्थित घर पर छापा मारा है। पुलिस ने अब्बास अंसारी के घर से छापेमारी में 4,431 कारतूस सहित भारी मात्रा में करोड़ों के हथियार बरामद किए हैं।

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश की पुलिस ने बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी के दिल्ली के वसंत कुंज स्थित घर पर छापा मारा है। पुलिस ने अब्बास अंसारी के घर से छापेमारी में 4,431 कारतूस सहित भारी मात्रा में करोड़ों के हथियार बरामद किए हैं।

हाल ही में पुलिस ने एक लाइसेंस पर ज्यादा हथियार खरीदने के आरोप में अब्बास अंसारी के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस ने यह केस लखनऊ के महानगर कोतवाली में दर्ज किया था।

यह भी पढ़ें…काशी विद्यापीठ यूनिवर्सिटी में छात्रों के दो गुट भिड़े, मारपीट के बाद फायरिंग

लखनऊ क्राइम ब्रांच और दिल्ली पुलिस की छापेमारी में इटली, ऑस्ट्रिया, स्लोवेनिया की रिवाल्वर, बन्दूक और कारतूस मिले। इतना ही नहीं इटली और स्लोवेनिया से खरीदी गई डबल बैरल और सिंगल बैरल की बंदूक भी बरामद की गई।

गौरतलब है कि यूपी पुलिस ने लखनऊ में 12 अक्टूबर को अब्बास अंसारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। एक ही हथियार के लाइसेंस पर 5 असलहे खरीदने का केस दर्ज किया गया था। साथ ही फर्जी तरीके से आर्म्स लाइसेंस को दिल्ली ट्रांसफर कराने का भी मामला दर्ज किया गया था।

यह भी पढ़ें…PM मोदी पर मनमोहन का हमला- हर बात के लिए UPA की देन कहकर नहीं बच सकते

पुलिस ने छापेमारी में इटली की बेरेटा गन से लेकर ऑस्ट्रिया की ग्लाक-25 पिस्टल के बैरल तक बरामद किए हैं। अब्बास के घर से बरामद असलहों में इटली से आयातित .12 बोर की डबल बैरल और सिंगल बैरल बेरेटा बंदूक के साथ ही ऑस्ट्रिया की ग्लॉक-25 पिस्टल के बैरल और स्लाइड समेत तमाम असलहे बरामद किए गए हैं।

इसके साथ ही लखनऊ की इंडियन आर्म्स कॉर्प से खरीदी गई .300 बोर की मैगनम रायफल, दिल्ली के राजधानी ट्रेडर्स से खरीदी .12 बोर की डबल बैरल बेरेटा गन और मेरठ के शक्ति शस्त्रागार से यूएसए की .357 बोर की रगर जीपी 100 रिवाल्वर भी उसके पास से बरामद की गई हैं।

यह भी पढ़ें…PM मोदी ने कहा- सतारा मेरी गुरु भूमि, विपक्ष कर रही सावरकर को बदनाम

यूपी पुलिस ने बताया कि अब्बास अंसारी ने 2012 में लखनऊ से डबल बैरल बंदूक का लाइसेंस लिया था। उन्होंने बताया कि अब्बास ने इसी लाइसेंस पर अन्य हथियारों का भी सौदा किया और वो दिल्ली भी पहुंच गया। लेकिन पुलिस को इसकी जानकारी नहीं दी।

लखनऊ के पते पर अब्बास अंसारी ने लाइसेंस लिया था। ऐसे में अब सवाल यह खड़ा हो रहा है कि मुख्तार अंसारी के बेटे ने पुलिस को बिना सूचना दिए कैसे अपने लाइसेंस को दिल्ली ट्रांसफर करा लिया।