डूब जायेगी मुंबई: आ रहा भयानक खतरा, यहां जानें चक्रवात निसर्ग का रूट

कोरोना संकट का सामना कर रही भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई सदी में पहली बार इस तरह के चक्रवाती तूफान का सामना करेगी। महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवात निसर्ग के आने की सूचना के बाद कई जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

Published by SK Gautam Published: June 3, 2020 | 12:04 pm
Modified: June 3, 2020 | 4:28 pm

मुंबई: पिछले कई महीनों से पृथ्वी पर कोरोना महामारी के साथ तूफ़ान, भूकंप का कहर जारी है। पश्चिम बंगाल में अम्फान तूफ़ान द्वारा मचाई गई तबाही में जन धन का काफी नुकसान हुआ। अब महाराष्ट्र और गुजरात के तटों की तरफ बढ़ने वाला चक्रवात निसर्ग (Cyclone Nisarga) आने वाले कुछ घंटों के अंदर भीषण रूप ले सकता है।

कई जिलों में अलर्ट जारी

अनुमान है कि इसके चलते मुंबई में भारी बारिश हो सकती है। कोरोना संकट का सामना कर रही भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई सदी में पहली बार इस तरह के चक्रवाती तूफान का सामना करेगी। महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवात निसर्ग के आने की सूचना के बाद कई जिलों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। निसर्ग चक्रवात के बुधवार को तट तक आने की संभावना है। ऐसे में एहतियात के तौर पर बचाव अभियान के लिए महाराष्ट्र में NDRF की 20 टीमों को तैनात किया गया है।

NDRF की 16 टीमें तैनात की जा चुकी हैं

गुजरात में NDRF की कुल 18 टीमें हैं, जिनमें से 16 तैनात की जा चुकी हैं और दो को रिजर्व में रखा गया है। तेज हवाएं और हाई टाइड्स मुंबई के वर्सोवा बीच से टकरा रही हैं। मौसम विभाग के मुताबिक आशंका है कि दक्षिणी अलीबाग (रायगढ़) को तूफान 1 से 3 बजे के बीच क्रॉस करेगा। भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने गोवा के अलग-अलग जगहों के लिए भारी बारिश की संभावना जताई है। हालांकि कुछ जगहों पर सामान्य रूप से बरसात भी हो सकती है।

ये भी देखें: चोरी से बीवी की बात सुनना पड़ेगा भारी, आया कोर्ट का बड़ा फैसला

कोंकण कोस्ट के आस-पास 75 किलोमीटर की रफ़्तार

भारतीय मौसम विभाग ने कहा है कि रत्नागिरी में सुबह 8:30 बजे के करीब 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने लगीं। कोंकण कोस्ट के आस-पास भी 55-65 से 75 किलोमीटर तक की हवाओं की स्पीड है। ये बढ़कर 100-110 से 120 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार हो सकती है, उसी वक्त लैंडफॉल की संभावना है।

लोगों को बाहर निकालकर सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया

साइक्लोन निसर्ग पिछले 1 घंटे के दौरान 65 किलोमीटर आगे बढ़ गया है। तूफान की स्पीड अभी 85-95 से 90-100 किलोमीटर प्रति घंटे की है, बताया जा रहा है कि 110 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। दमन में एनडीआरएफ की टीम निचले इलाकों से लोगों को बाहर निकालकर सुरक्षित स्थानों पर ले जा रही है।

ये भी देखें: कोरोना सस्पेंसः आखिर एक एक कर क्यों मर रहे हैं खुलासा करने वाले, अब छठी मौत

मछुआरों को सलाह दी जाती है कि इन तटों पर न जाएं: केंद्रीय मंत्री, पृथ्वी विज्ञान

केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने ये बताया कि निसर्ग तूफान तेज हो गया है। 05:30 बजे अलीबाग से दक्षिण-पश्चिम में 165 किमी दूर और मुंबई से 215 दूर अरब सागर में इस तूफान की स्थिति थी कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र, गुजरात में अगले कुछ घंटों में भारी बारिश की संभावना है। लोग घरों के अंदर रहें, वहीं निचले इलाकों से लोगों को निकाला जा रहा है। मछुआरों को सलाह दी जाती है कि वह पूर्वोत्तर अरब सागर में और कर्नाटक-गोवा-महाराष्ट्र-दक्षिण गुजरात तट के नजदीक न जाएं।

तूफ़ान अलीबाग से 155 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम: भारत मौसम विभाग (IMD)

भारतीय रेलवे ने कहा है कि Cyclone Nisarga के खतरे को देखते हुए मुंबई टर्मिनल से चलने वाली 5 ट्रेनों के समय में बदलाव किया गया है, साथ ही 2 अन्य ट्रेनों के समय में भी बदलाव की संभावना है, जिसमें से एक ट्रेन को डाइवर्ट किया जा सकता है। CycloneNisarga पिछले 6 घंटों के दौरान 13 किमी प्रति घंटे की गति के साथ उत्तरी महाराष्ट्र तट पर आ रहा है। यह अलीबाग से 155 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम और मुंबई से 200 किमी दक्षिण-पश्चिम में है।

ये भी देखें: Cyclone alart: मौसम विभाग की चेतावनी, आंधी के साथ हो सकती है भारी बारिश

NDRF की टीमों ने महाराष्ट्र में आज सुबह कोलिवाड़ा, अलीबाग, में लोगों को वहां से निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। NDRF ने मुंबई में 8, रायगढ़ में 5, पालघर में 2, थाणे में 2, रत्नागिरी में 2, सिंधुदुर्ग में 1 टीम को तैनात कर दिया है।

गोवा में बीती रात तीन घंटे तक 71 mm बारिश हुई है: भारत मौसम विभाग (IMD)

पड़ोसी राज्यों पर भी Cyclone Nisarga असर हो रहा है। गोवा में बीती रात तीन घंटे तक 71 mm बारिश हुई है। चक्रवात निसर्ग 11 किमी प्रति घंटे की रफ्तार के साथ उत्तरी महाराष्ट्र तट पर आ रहा है। यह अलीबाग से लगभग 200 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम और मुंबई के 250 किमी दक्षिण-पश्चिम में 0230 घंटे IST 03-06-2020 पर है।