देश में जल्द लागू होगी नई शिक्षा नीति, जानिए कैसे होगी स्कूलों में पढ़ाई

एचआरडी मिनिस्टर ने कहा नई शिक्षा नीति का मसौदा तैयार हो गया है। संसद से मंजूरी मिलते ही नई शिक्षा नीति देश में लागू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि दुनिया में इतना बड़ा विमर्श पहली बार हुआ है।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के मद्देनजर पूरे देश में लॉकडाउन चल रहा है। स्कूल-कॉलेज, मॉल सब बंद पड़ें हैं। इस दौरान लोग अपने घरों में रहकर ही काम कर रहे हैं। हालांकि लॉकडाउन के चौथे चारण में कुछ ढील के साथ ऑफिस वगैरह खोलने की बात कही गयी है। लेकिन इन सब के बीच लोगों के दिमाग सिर्फ एक ही बात आ रही है कि लॉकडाउन के बाद क्या होगा, क्या सबकुछ पहले जैसा नॉर्मल होगा या सबकुछ बदल जायेगा। इसी बीच मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने लाइव वेबिनार में नई शिक्षा नीति पर बड़ा खुलासा किया है।

ये भी पढ़ें: रिलायंस बना रही चीन से 3 गुना सस्ती PPE किट, हजारों लोगों को मिला रोजगार

देश में लागू होगी नई शिक्षा नीति

उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति का मसौदा तैयार हो गया है। संसद से मंजूरी मिलते ही नई शिक्षा नीति देश में लागू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि दुनिया में इतना बड़ा विमर्श पहली बार हुआ है। इसमें करोड़ों लोग शामिल हुए है। इस शिक्षा नीति में गांव पंचायत, शिक्षाविदों, राजनेताओं, वैज्ञानिकों, छात्र और अभिभावकों से भी राय ली गई है।

ये भी पढ़ें: मध्यस्थता पर भारत ने ट्रंप को दिया जवाब, विदेश मंत्रालय ने चीन पर कही ये बड़ी बात

टीचरों को बताया कोरोना वॉरियर

एचआरडी मिनिस्टर ने कहा कि बच्चे देश का भविष्य हैं। इसलिए इनको अच्छी शिक्षा और इनकी सुरक्षा हमारी सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। एचआरडी मिनिस्टर ने ‘चुनौतियों को अवसर के रूप में बदलना’ -विषय पर बोलते हुए कहा कि फाइनल ईयर के अंतिम सेमेस्टर के स्टूडेंट्स को इंटरनल असेसमेंट के आधार पर प्रमोट किया जाएगा। उन्होंने टीचरों को कोरोना वॉरियर बताते हुए कहा कि एक तरफ देश कोरोना से  लड़ रहा था तो लॉकडाउन में शिक्षक ऑनलाइन छात्रों को पढ़ाने में व्यस्त थे।

ये भी पढ़ें: Live: लॉकडाउन 5 पर जल्द एलान! भारत में कोरोना का आंकड़ा 1.65 लाख पार

चुनौतियों पर अवसर खोजना

एचआरडी मिनिस्टर ने कहा कि नीट और जेईई परीक्षा के लिए ‘नेशनल अभ्यास ऐप’ लॉन्च किया गया है। इससे पढ़ाई करने में आसानी होगी। उन्होंने कहा कि आज हमारे छात्र ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं, यही चुनौतियों पर अवसर खोजना है। इस तरह की पढ़ाई के बारे में देश के लोगों ने कभी नहीं सोचा था कि घर में रहकर ही पढ़ाई होगी।

ये भी पढ़ें: मौसम विभाग ने कहा-प्री-मॉनसून गतिविधियों के 30 मई से शुरू होने के संभावना

आम लोगों के लिए हेलीकॉप्टर सेवा की शुरुआत, इतना आसान होगा सफर

UP में लाखों लोगों को मिलेगी नौकरी, ये बड़ा कदम उठाने जा रही योगी सरकार

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App