निर्भया के दोषी की बड़ी साजिश: जानें क्यों बनाया खुदकुशी का प्लान

बता दें कि निर्भया के दोषियों पर सीसीटीवी से 24 घंटे निगरानी रखी जा रही है। विनय द्वारा सुसाइड की कोशिश किए जाने का यह दावा उसके वकील एपी सिंह ने किया है, जबकि तिहाड़ जेल महानिदेशक संदीप गोयल ऐसी किसी भी घटना से इंकार कर रहे हैं।

नई दिल्ली: निर्भया गैंगरेप के दोषी तिहाड़ जेल में बंद हैं। गैंगरेप के 4 दोषियों में से एक विनय ने बुधवार को आत्महत्या करने की कोशिश की। विनय ने जेल की टॉयलेट में फंदा लगाकर जान देने की कोशिश की है। जानकारी के मुताबिक वहां मौजूद सिपाहियों ने दोषी विनय को बचा लिया।

बता दें कि निर्भया के दोषियों पर सीसीटीवी से 24 घंटे निगरानी रखी जा रही है। विनय द्वारा सुसाइड की कोशिश किए जाने का यह दावा उसके वकील एपी सिंह ने किया है, जबकि तिहाड़ जेल महानिदेशक संदीप गोयल ऐसी किसी भी घटना से इंकार कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें—गायब हुआ ये खतरनाक आतंकी: 50 से ज्यादा बम धमाकों का है दोषी

ऐसे की जान देने की कोशिश

जानकारी के अनुसार विनय तिहाड़ जेल के नंबर चार के सिंगल कमरे में बंद था। उसकी कोठरी और शौचालय के बीच सिर्फ एक पर्दा है। शौचालय में लोहे का छोटा सा खूंटीनुमा टुकड़ा लगा है। बुधवार सुबह 9 से 10 बजे के बीच उसने गमछे से फंदा बनाकर खूंटे से लटकने की कोशिश की। फंदा 5-6 फीट की ऊंचाई पर ही होने के कारण वह ठीक से लटक नहीं पाया। और इसी दौरान सुरक्षाकर्मियों की उस पर निगाह पड़ गई।

क्यों की आत्महत्या की कोशिश

जानकारों के मुताबिक किसी भी दोषी को फांसी देने से पहले कई बातों का ख्याल रखा जाता है। जैसे वो एकदम स्वास्थ्य होना चाहिए। उस पर किसी भी तरह का कोई केस बाकी नहीं रहना चाहिए। शायद यह ही वजह है अपने ऊपर केस दर्ज कराने के लिए विनय ने सुसाइड की कोशिश की। जिससे आत्महत्या की कोशिश का मामला उस पर दर्ज हो जाए।

ये भी पढ़ें—RSS का संविधान! अब दो बच्चों के कानून पर संघ बना रहा प्लान

दोषी पवन के पिता पहुंचे कोर्ट

निर्भया के एक और दोषी पवन के पिता ने दिल्ली की एक कोर्ट में याचिका दाखिल की है। पवन के पिता ने इस केस से जुड़े एकमात्र गवाह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के आदेश से इनकार करने संबंधी मजिस्ट्रेट के आदेश को चुनौती दी है। जानकारों की मानें, तो इस याचिका पर 27 जनवरी को सुनवाई होने की उम्मीद है। फिलहाल निर्भया केस के दोषियों को फांसी दिए जाने की तैयारी चल रही है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App