×

बैंककर्मियों की नौकरी पर निर्मला का सीतारमण बड़ा बयान, यहां देखें...

इंडियन ओवरसीज बैंक को 3,800 करोड़, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 3,300 करोड़, यूको बैंक 2,100 करोड़ रुपये, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को 1,600 करोड़ और पंजाब ऐंड सिंध बैंक को 750 करोड़ रुपये मिलेंगे। विलय के ऐलान के साथ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 5 ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी की बात भी की थी।

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 1 Sep 2019 9:51 AM GMT

बैंककर्मियों की नौकरी पर निर्मला का सीतारमण बड़ा बयान, यहां देखें...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल ही बैंकों के विलय का ऐलान किया है। ऐसे में अब यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स पंजाब नेशनल बैंक में मर्ज हो जाएंगे। इस बैंकों के मर्ज होते ही पीएनबी देश का दूसरा बड़ा बैंक हो जाएगा। वहीं, वित्त मंत्री ने केनरा बैंक और सिंडिकेट बैंक के विलय का ऐलान भी है। यही नहीं, वित्त मंत्री ने इलाहाबाद बैंक में इंडियन बैंक के विलय का ऐलान भी किया।

यह भी पढ़ें: कश्मीर पर अमेरिका ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा

इस ऐलान के बाद जनता और बैंक कर्मचारी इस बात से चिंतित हो गए कि अब आगे उनको क्या करना है। इस मामले पर भी निर्मला सीतारमण ने बयान जारी किया। उन्होंने कहा कि बैंकों के विलय से कर्मचारियों पर कोई असर नहीं पड़ेगा। बैंक कर्मचारियों की नौकरियां सुरक्षित रहेंगी। बता दें, बैंकों के विलय के बाद अब देश में पब्लिक सैक्टर के बैंकों की संख्या 27 से घटकर 12 हो गई है।

यह भी पढ़ें: लूट लो! बीच सड़क पर 100-100 के नोट, कुछ ऐसा रहा मंज़र

वित्त मंत्री ने विलय के ऐलान के साथ ही इसका भी ऐलान कि किस बैंक को कितनी रकम मिलेगी। वित्त मंत्री ने बताया कि पंजाब नेशनल बैंक को 16,000 करोड़, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया को 11,700 करोड़, बैंक ऑफ बड़ौदा को 7,000 करोड़, केनरा बैंक को 6,500 करोड़ रुपये तो इंडियन बैंक को 2,500 करोड़ रुपये दिये जाएंगे।

5 ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी की वित्त मंत्री ने की थी बात

इसके अलावा इंडियन ओवरसीज बैंक को 3,800 करोड़, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 3,300 करोड़, यूको बैंक 2,100 करोड़ रुपये, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को 1,600 करोड़ और पंजाब ऐंड सिंध बैंक को 750 करोड़ रुपये मिलेंगे। विलय के ऐलान के साथ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 5 ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी की बात भी की थी।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story