यहां सबकुछ मुफ्त: कोरोना से लड़ने के लिए राशन, स्कॉलरशिप-अतिरिक्त वेतन

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत देने वाली घोषणा की है। उन्होंने राशनकार्ड धारियों से लेकर पेंशनधारकों तक ले लिए सहायता पैकेज देने का एलान किया है। इसके साथ ही डॉक्टरों का मनोबल बढ़ाने के लिए प्रोत्साहन राशि देने का भी फैसला किया है।

पटना: कोरोना वायरस से भारत की सभी राज्य सरकारें अपने अपने स्तर पर निपटने के प्रयास में है। पहले तो लगभग सभी प्रदेशों में लॉक डाउन घोषित कर दिया तो वहीं अब कोरोना से लोगों की जान बचाने में लगे डॉक्टरों को लेकर भी बड़ा फैसला लिया गया है। दरअसल, बिहार की नीतीश सरकार ने कोरोना से लड़ रहे डॉक्टरों और अन्य चिकित्साकर्मियों को प्रोत्साहित करते हुए एक महीने का मूल वेतन अगल से देने की घोषणा की है। इसके अलावा यूपी और दिल्ली की सरकारों की तर्ज पर गरीबों को पेंशन और राशन देने का भी फैसला किया है।

बिहार के सीएम नीतीश कुमार का बड़ा एलानः

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत देने वाली घोषणा की है। उन्होंने राशनकार्ड धारियों से लेकर पेंशनधारकों तक ले लिए सहायता पैकेज देने का एलान किया है। इसके साथ ही डॉक्टरों का मनोबल बढ़ाने के लिए प्रोत्साहन राशि देने का भी फैसला किया है।

ये भी पढ़ेंः जान लीजिये, अदृश्य दुश्मन कोरोना से बचा नहीं पाएगा कोई

मिलेगा मुफ्त राशन और पेंशन

सीएम के आदेश के तहत राज्य के सभी राशन कार्डधारक परिवारों को एक महीने का राशन मुफ्त मिलेगा। इसके साथ ही राज्य में जिन क्षेत्रों में लॉक डाउन किया गया है, वहां सभी नगर निकाय और प्रखंड मुख्यालय की पंचायत में राशनकार्ड धारक परिवारों को एक हजार रुपये प्रति परिवार खाते में दी जाएगी । वहीं वृद्ध पेंशन, दिव्यांग पेंशन, विधवा पेंशन धारकों को तीन महीने की पेंशन तत्काल दी जायेगी।

ये भी पढ़ेंः कोरोना पर PM मोदी: लॉकडाउन को गंभीरता से लें, कानून का पालन करवाएं सरकारें

छात्र-छात्राओं को भी सौगात:

नीतीश सरकार ने छात्र-छात्राओं को भी इस मौके पर बड़ी सौगात देने का एलान किया। कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी छात्रों को 31 मार्च तक छात्रवृति दे दी जाएगी। इसके अलावा डॉक्टरों और चिकित्साकर्मियों मनोबल बढ़ाने के लिए एक माह का अतिरिक्त मूल वेतन बतौर प्रोत्साहन राशि दिया जाएगा।

ये भी पढ़ेंः खतरे में ब्रिटेन की महारानी: राजमहल तक पहुंचा कोरोना, शाही परिवार में हड़कंप

बिहार में 31 मार्च तक लॉकडाउन

गौतलब है कि बिहार में भी 31 मार्च तक लॉकडाउन रहेगा। इस बाबत रविवार को सीएम नीतीश कुमार ने अहम बैठक बुलाई थी। बैठक के बाद एलान किया गया कि सभी जिला मुख्यालय, अनुमंडल और ब्लॉक स्तर पर लॉक डाउन किया गया है। हालांकि बैंक, पोस्ट ऑफिस, एटीएम और मीडिया कार्यालय लॉकडाउन से बाहर रहेंगे। वहीं निजी प्रतिष्ठान, कार्यालय और परिवहन सेवाओं को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।