चिदंबरम के 74वें जन्मदिन पर बेटे कार्ति ने लिखा भावुक पत्र, सरकार पर साधा निशाना

अपने पत्र की शुरुआत में कार्ति ने लिखा है, ‘प्रिय अप्पा, आज आप 74 साल के हो रहे हैं और कोई 56 इंच आपको रोक नहीं सकता। आप बेशक कभी भव्य समारोह के पक्षधर नहीं रहे हैं लेकिन आज देश में हर छोटी चीज का उत्सव मनाया जा रहा है।

नई दिल्ली: पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम का आज 74वां जन्मदिन है। वह आईएनएक्स मीडिया मनी लांड्रिंग मामले में इस समय तिहाड़ जेल में बंद है।

वह 19 सितंबर तक यहीं रहेंगे क्योंकि राउज एवेन्यू अदालत ने उन्हें आईएनएक्स मामले में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा हुआ है। जन्मदिन पर बेटे और शिवगंगा सीट से कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम ने उनके लिए पत्र लिखा है। पिता को जन्मदिन की बधाई देने के अलावा कार्ति ने मोदी सरकार पर हमला बोला है।

ये भी पढ़ें…तिहाड़ जेल में बंद पी चिदंबरम ने अधिकारियों को लेकर कह दी ये बड़ी बात

अपने पत्र की शुरुआत में कार्ति ने लिखा है, ‘प्रिय अप्पा, आज आप 74 साल के हो रहे हैं और कोई 56 इंच आपको रोक नहीं सकता। आप बेशक कभी भव्य समारोह के पक्षधर नहीं रहे हैं लेकिन आज देश में हर छोटी चीज का उत्सव मनाया जा रहा है।

आपका जन्मदिन वैसा नहीं है जैसे आपका हमारे साथ होने पर होता। हम आपको याद कर रहे हैं। आपकी अनुपस्थिति हमारे लिए झटका है और हम चाहते हैं कि आप केक काटने के लिए घर आएं। लेकिन आज के समय में 74 का होना 100 दिनों के होने की तुलना में कुछ नहीं है।’

कार्ति ने चंद्रयान 2 के बारे में पी चिदंबरम को बताया। उन्होंने लिखा,” साइंस और टेक्नोलॉजी में आपकी दिलचस्पी के कारण आपको चंद्रयान मिशन की लाइव स्ट्रीमिंग देखकर काफी अच्छा लगता।

हम किस्तमतवालों को गर्व के साथ इसे देखने का मौका मिला। हालांकि इसमें बहुत ड्रामा था। लैंडर विक्रम से संपर्क टूटने वाला ड्रामा नहीं बल्कि उसके बाद जो बड़ा ड्रामा हुआ।

ये भी पढ़ें…INX Scam : जाने क्या है पी चिदंबरम पर चार्ज, जिस वजह से जाएंगे जेल

मोदी सरकार पर कसा तंज

यहां कार्ति चिदंबरम का इशारा इसरो चीफ के सिवन को दिलासा देते हुए पीएम मोदी द्वारा उनको आगे कार्ति ने खत में गिरते जीडीपी को लेकर भी केंद्र की मोदी सरकार पर तंज कसा। साथ ही केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल द्वारा न्यूटन के बजाय आइंस्टीन को गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत के लिए श्रेय देने पर भी उन्होंने निशाना साधा। आर्थिक संकट को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बयान का भी कार्ति ने खत में जिक्र किया।

उन्होंने लिखा, ”मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल के 100 दिन का जश्न मना रही है और ऐसे वक्त में आपकी आवाज दबाने का सही समय था। आप उनसे असहमत होकर उनके खिलाफ बोल रहे थे। एक सत्ताधारी पार्टी के खिलाफ विरोध करने के लिए बहुत साहस चाहिए।”

बता दें कि आईएनएक्स मीडिया केस में पी चिंदबरम को 1 सितंबर को दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने 14 दिनों की न्याययिक हिरासत में भेज दिया था। फिलहाल वह तिहाड़ जेल में हैं, उनकी जमानत याचिका दिल्ली हाई कोर्ट में लंबित है जिसपर 23 सतंबर को सुनवाई होनी है।

ये भी पढ़ें…पी चिदंबरम मामले पर बोले अशोक गहलोत, अर्थव्यवस्था के संकट से ध्यान भटकाने के लिए यह सब किया जा रहा