मोदी सरकार ने किसानों को दिया तोहफा, किया ये बड़ा ऐलान

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बजट से पहले किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। बुधवार को कैबिनेट की बैठक हुई और इस बैठक में सरकार ने कई बड़ फैसले लिए हैं। सरकार ने धान की एमएसपी 85 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाने का ऐलान किया है।

नई दिल्ली: केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बजट से पहले किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। बुधवार को कैबिनेट की बैठक हुई और इस बैठक में सरकार ने कई बड़ फैसले लिए हैं। सरकार ने धान की एमएसपी 85 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाने का ऐलान किया है। अब धान की एमएसपी बढ़कर 1835 रु प्रति क्विंटल हो गई है। सरकार ने इसके अलावा मक्का, बाजरा, मूंगफली, तूर समेत 13 अनाजों की एमएसपी बढ़ाने का फैसला लिया है। केंद्र सरकार ने वेज कोड बिल को भी पास कर दिया है।

यह भी पढ़ें…राहुल ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा, ये हो सकते हैं अंतरिम अध्यक्ष

357 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य

केंद्र सरकार ने इस साल देशभर में 357 लाख टन गेहूं खरीद का लक्ष्य रखा है, जबकि पिछले सीजन 2018-19 में सरकारी खरीद एजेंसियों ने देशभर में 357.95 लाख टन गेहूं खरीदा था। एफसीआई आंकड़ों के मुताबिक पंजाब में सबसे ज्यादा 127.01 लाख टन गेहूं की खरीद की गई है, जो केंद्र सरकार की तरफ से प्रदेश में गेहूं की खरीद के लिए तय लक्ष्य 125 लाख टन से अधिक है।

यह भी पढ़ें……तो क्या आखिरी वर्ल्ड कप खेल रहे हैं महेंद्र सिंह धोनी!

यूपी में महज 26.56 लाख टन गेूहं की खरीद हो पाई

सरकारी एजेंसियों ने हरियाणा में अब तक 93.23 लाख टन गेहूं की खरीद की है। मध्य प्रदेश में गेहूं की खरीद 65.45 लाख टन हो गई है जबकि देश के सबसे बड़े गेहूं उत्पादक राज्य उत्तर प्रदेश में महज 26.56 लाख टन गेूहं की खरीद हो पाई है।

यह भी पढ़ें…दूध बेचने वाली बनी करोड़ो की मालकिन, खुद को नहीं पता कहां-कहां प्रापर्टी

एफसीआई के आंकड़ों के मुताबिक, राजस्थान में 10.89 लाख टन, उत्तराखंड में 39,000 टन, चंडीगढ़ में 12,000 टन, गुजरात में 5,000 टन और हिमाचल प्रदेश में 1,000 टन गेहूं की सरकारी खरीद हुई है, जबकि बिहार में गेहूं की सरकारी खरीद का कोई आंकड़ा एफसीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध नहीं है।