ट्रंप के भारत दौरे से चिढ़ा पाकिस्तान, रच रहा है ये बड़ी साजिश

जब से केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाई गई है, तब से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और भारत पर किसी बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने की फिराक में लगा हुआ है।

ट्रंप के भारत दौरे से चिढ़ा पाकिस्तान, रच रहा है ये बड़ी साजिश

ट्रंप के भारत दौरे से चिढ़ा पाकिस्तान, रच रहा है ये बड़ी साजिश

नई दिल्ली: जब से केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाई गई है, तब से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और भारत पर किसी बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने की फिराक में लगा हुआ है। अब एक खुफिया रिपोर्ट में ये खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान ट्रंप के भारत दौरे से पहले किसी बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने की साजिश रच रहा है। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: VALENTINE DAY: आज खुलकर करिए इनके साथ प्यार, किसी से भी ना डरें आप

खुफिया रिपोर्ट में आतंकी हमले का हुआ खुलासा

खुफिया रिपोर्ट में ये कहा गया है कि पाकिस्तान कश्मीर घाटी में किसी बड़े आतंकी हमले को अंजाम देकर हालात को खराब करना चाहता है और इसके लिए पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में आतंकी संगठनों की बैठक भी हुई थी। इस बैठक में आईएसआई (ISI) और पाक सेना के अधिकारी मौजूद थे। सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में तीन रणनीति तैयार की गई है। पहली कि इस आतंकी हमले को पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश और लश्कर के आतंकी अंजाम देंगे, लेकिन उनकी जिम्मेदारी हिजबुल मुजाहिदीन लेगा।

फिर से आतंकियों को एक्टिव कर रहा पाकिस्तान

पाकिस्तान एक बार फिर से आतंकियों को एक्टिव कर रहा है। क्योंकि ऑपरेशन ऑल आउट के बाद से कई आतंकी संगठनों के कमांडर ढेर कर दिए गए हैं और कई कहीं और ठिकाना बनाकर छिप कर बैठे हैं।

यह भी पढ़ें: राशिफल 14 फरवरी: इन राशियों पर छाएगा वेलेनटाइन का खुमार, जानिए सबका हाल

हिजबुल को आतंकी हमले का फरमान किया जारी

दरअसल, आतंकी संगठन जैश और लश्कर के अधिकांश आतंकी पाकिस्तानी होते हैं और पाकिस्तान एफटीएएफ (FTAF) की बैठक से पहले ऐसा कोई भी काम करने से बच रहा है, जिससे उस पर सवाल खड़े हों। इसलिए पाकिस्तान ने चालाकी के साथ हिजबुल को आतंकी हमले को अंजाम देने का फरमान जारी किया है।

इस हमलों की भी जिम्मेदारी लेगा हिजबुल

यहीं नहीं हिजबुल को उन गतिविधियों की भी जिम्मेदारी लेने को कहा गया है, जो जैश, लश्कर या दूसरे आतंकी संगठन अंजाम देंगे। ऐसा करके पाकिस्तान ट्रंप के दौरे के दौरान ये दिखाने की कोशिश मे है कि कश्मीरी जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाए जाने से काफी नाराज हैं और वह आतंकी हमलों को अंजाम दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें: फिर बढ़ा तनाव: अमेरिकी सैन्य अड्डे पर रॉकेट हमला, नहीं मान रहा ईरान

लोगों में दोबारा डर पैदा करना चाहता है पाकिस्तान

वहीं दूसरी रणनीति ये तैयार की गई है कि पाकिस्तान कश्मीर के लोगों के अंदर खत्म हो रहे आतंकी संगठनों के डर को दोबारा पैदा करना। इसके लिए पाकिस्तान शहरी इलाकों में पुलिस, सुरक्षाबलों और आम नागरिकों पर गोलीबारी व ग्रेनेड से हमले करने की साजिश रच रहा है। सुरक्षा एजेंसियों को आसानी से आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिल रही है, जिसकी मदद से सुरक्षाबलों को आतंकियों को ढेर करने में मदद मिल रही है। आतंकियों की तीसरी रणनीति पुलवामा हमले की तर्ज पर ही किसी बड़े हमले को अंजाम देने की है, जिसकी जिम्मेदारी भी हिजबुल मुजाहिदीन को ही लेने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें: पुलवामा के एक साल: हुए हैं कई बदलाव, जानिए क्या हुआ था उस दिन…

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App