2000 के नोट पर पाकिस्तान की बड़ी साजिश, कर रहा ये खतरनाक काम

मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट दुबई से आए एक व्‍यक्ति को कुल 24 लाख रुपये मूल्‍य के दो हजार के नोटों के साथ गिरफ्तार किया गया है। पाकिस्‍तान में बने इन उच्‍च गुणवत्‍ता के नोटों पर नौ में से 7 सिक्‍यॉरिटी फीचर मौजूद थे।

Dharmendra kumar
Published on: 10 Feb 2020 1:07 PM GMT
2000 के नोट पर पाकिस्तान की बड़ी साजिश, कर रहा ये खतरनाक काम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

पटना: मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट दुबई से आए एक व्‍यक्ति को कुल 24 लाख रुपये मूल्‍य के दो हजार के नोटों के साथ गिरफ्तार किया गया है। पाकिस्‍तान में बने इन उच्‍च गुणवत्‍ता के नोटों पर नौ में से 7 सिक्‍यॉरिटी फीचर मौजूद थे। पुलिस के साथ पूछताछ में आरोपी ने बड़ा खुलासा किया है। आरोपी ने बताया कि ये नोट पाकिस्‍तान में प्रिंट किए गए और वहां से दुबई भेजे गए ताकि उन्‍हें भारत भेजा जा सके।

बता दें कि वर्ष 2016 में जब 2000 के नोट जारी किए गए थे, तब इन्‍हें बेहद सुरक्षित नोट बताया गया था। पिछले साल अक्‍टूबर में आरबीआई ने कहा था कि वर्ष 2019 में उसने 2000 का कोई नया नोट नहीं छापा है।

आरबीआई ने कहा कि एनआईए को उच्‍चकोटि के फर्जी नोट मिले हैं। यात्री जावेद शेख मुंबई के कलवा का रहने वाला है। जावेद पहले भी कई बार दुबई और बैंकाक जा चुका है और वहां से फर्जी नोट ला चुका है।

यह भी पढ़ें...राहुल गांधी का बड़ा हमला, कहा- BJP-RSS के डीएनए में आरक्षण का विरोध

पुलिस अब जावेद से यह जानने की कोशिश कर रही है कि ये नोट किसे दिए जाने थे। एक मीडिया रिपोर्ट में संयुक्‍त पुलिस आयुक्‍त संतोष रस्‍तोगी के हवाले से कहा गया है कि उन्होंने आतंकी कनेक्‍शन की आशंका को खारिज नहीं किया। उन्होंने कहा कि सामान्‍य आदमी इन फर्जी नोटों को पहचान नहीं सकता है। ये नोट एकदम असली लगते हैं। शेख एयरपोर्ट के सिक्‍योरिटी चेक से बाहर आ गया था। उसे इंटरनेशनल टर्मिनल के बस स्‍टॉप के बाहर से गिरफ्तार किया गया।

यह भी पढ़ें...बिहार में कन्हैया कुमार पर फिर हमला, लोगों ने फेंका अंडा-मोबिल, मची अफरा-तफरी

संतोष रस्‍तोगी ने बताया कि शेख को अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए की सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया है। उन्‍होंने कहा कि नकली नोटों को एक बैग में भरा गया था। उसे तलाश करने में एक घंटे लग गया। हमने उसकी पहचान उसकी सफेद जींस से की। सुबह के करीब 9.30 बजे थे। वह बस का इंतजार कर रहा था। इन नोटों को बैग के अंदर छिपाकर रखा गया था।

यह भी पढ़ें...हरिद्वार महाकुंभ: शाही स्नान की तारीखों का ऐलान, इस दिन लगाई जायेगी गंगा में डुबकी

इन नकली नोटों को इस तरह से रखा गया था कि उन्‍हें बैगेज स्‍कैनर में पकड़ा नहीं जा सका। रस्‍तोगी ने कहा कि स्‍कैनर उन्‍हीं नोटों को पकड़ पाता है जिन्‍हें बंडल में रखा गया होता है। जावेद ने नोटों को अलग-अलग रखा हुआ था जिसे उसे पकड़ा नहीं जा सका।

नोटों की गुणवत्‍ता पर क्राइम ब्रांच के अधिकारी ने कहा कि इन नोटों पर नौ में से 7 सिक्‍यॉरिटी फीचर एकदम मिल रहे थे। केवल रंग बदलने वाली स्‍याही और प्रकाश के खिलाफ देखने पर दिखने वाला 'सी-थ्रू रजिस्‍टर' ही पाकिस्‍तानी सही से कॉपी नहीं कर पाए थे। शेख के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे अरेस्‍ट कर लिया गया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story