LOC पर भयानक हमला: धमाकों और गोलियों से हिल उठी घाटी, सेना दे रही जवाब

पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों को रचने से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में शनिवार के बाद आज फिर पाकिस्तान की तलीम पर आतंकियों ने सीजफायर का उल्लंघन किया है। खूनी साजिश की फिराक में पाकिस्तान की सेना ने कठुआ और राजौरी जिले में अग्रिम चौकियों और गांवों को निशाना बनाया है।

indian forces

फोटो-सोशल मीडिया

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों को रचने से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में शनिवार के बाद आज फिर पाकिस्तान की तलीम पर आतंकियों ने सीजफायर का उल्लंघन किया है। खूनी साजिश की फिराक में पाकिस्तान की सेना ने जम्मू-कश्मीर के कठुआ और राजौरी जिले में इंटरनेशनल बॉर्डर और लाइऩ ऑफ कंट्रोल(LOC) पर अग्रिम चौकियों और गांवों को निशाना बनाया है। लेकिन भारतीय सेना के जवानों ने भी आतंकियों का मुंहतोड़ जवाब दिया है। समस्त जानकारी अधिकारियों ने रविवार को दी।

ये भी पढ़ें… सेना प्रमुख का अल्टीमेटमः घुसपैठ की कोशिश की तो देंगे निपटा, पीछे नहीं लौट पाओगे

सीजफायर के उल्लंघन

घाटी में आतंकियों द्वारा सीजफायर के उल्लंघन(Ceasefire Violation) से फिलहाल किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। पर इससे एक दिन पहले पाकिस्तानी सैनिकों की तरफ से राजौरी और पुंछ जिले में गोलीबारी की अलग-अलग घटनाओं में सेना का एक जवान शहीद हो गया था। साथ ही दो महिलाओं सहित तीन अन्य लोग घायल हो गए थे।

ARMY
फोटो-सोशल मीडिया

इसी कड़ी में रक्षा प्रवक्ता ने बताया, ‘रविवार सुबह 11 बजकर 15 मिनट पर पाकिस्तान ने राजौरी के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर बिना किसी उकसावे के छोटे हथियारों से गोलीबारी शुरू की और मोर्टार के गोले दागकर संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया।’

ये भी पढ़ें…सेना ने मारे 39: दोनों देशों के बीच भयानक संघर्ष, निहत्थों पर चले बम-गोले

जवानों ने माकूल जवाब दिया

सीजफायर के बारे में जानकारी देते हुए अधिकारियों ने बताया कि शनिवार रात करीब नौ बजे सतपाल, मनयारी, करोल कृष्णा और गुरनाम सीमा चौकियों पर सीमापार से गोलीबारी शुरू हुई। हालांकि इसका सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने माकूल जवाब दिया।

आगे उन्होंने बताया कि दोनों ही तरफ से गोलीबारी रविवार तड़के तीन बजकर 45 मिनट पर भी जारी थी। अभी तक भारतीय पक्ष से किसी के हताहत होने या क्षति की खबर नहीं है। इस साल अब तक पाकिस्तान ने 4000 बार सीजफायर समझौते का उल्लंघन किया है। 2019 में यह संख्या 3289 थी।

ये भी पढ़ें…भारतीय सेना का बदला: पाकिस्तान में मची तबाही, कई सैनिक ढेर और चौकियां तबाह

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App